चिरमिरी - नागपुर रेल विस्तार में आ रही अड़चनों को दूर कराने पूर्व महापौर हुए सक्रिय

(विधानसभा अध्यक्ष के समक्ष विस्तृत प्रस्ताव प्रस्तुत कर हस्तक्षेप करने की रखी माँग)

(डॉ. महंत ने मुख्यमंत्री और कलेक्टर से बात कर निराकरण करने का दिया भरोसा)

कलयुग की कलम 

चिरमिरी - चिरमिरी से नागपुर हाल्ट स्टेशन को जोड़ने वाली स्वीकृत नई रेल लाईन प्रोजेक्ट के लिए लम्बित भूमिअधिग्रहण प्रक्रिया में तेज़ी लाने व राज्य सरकार द्वारा एमओयू के तहत 50 प्रतिशत राशि 120 करोड़ 50 लाख जारी करने के लिए चिरमिरी के पूर्व महापौर के. डोमरु रेड्डी ने विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत से सम्बंधित दस्तावेज़ों ke साथ मुलाकात कर सम्पूर्ण वस्तुस्थिति से अवगत कराते हुए आवश्यक हस्तक्षेप कर मामले के निराकरण के दिशा में पहल करने की माँग रखी, जिस पर डॉ. महंत ने मुख्यमंत्री एवं कलेक्टर से बात कर मामले में कार्यवाही आगे बढ़ाने में दिलचस्पी लिया।

उपरोक्त जानकारी देते हुए पूर्व महापौर के. डोमरु रेड्डी ने रायपुर प्रवास के दौरान छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत से मुलाकात कर उन्हें क्षेत्र के इस बहुप्रतीक्षित रेल सुविधा के ज़रूरत के सम्बन्ध में अवगत कराते हुए बताया कि सितंबर 2018 में छत्तीसगढ़ राज्य व भारतीय रेल मंत्रालय के बीच चिरमिरी - नागपुर हाल्ट नई रेल लाइन हेतु एमओयू किया गया था। जिसमें राज्य सरकार व केंद्र सरकार द्वारा 50-50 प्रतिशत की हिस्सेदारी तय की गई थी, जिसमें 2019 के केंद्रीय बजट में रेल मंत्रालय ने अपने हिस्से के 50% की राशि 120 करोड़ 50 लाख रुपए जारी कर दिया है। इसके साथ ही दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे ने नागपुर हाल्ट से चिरमिरी के बीच नई रेल लाइन विस्तार मार्ग पर पड़ने वाली भूमि के अधिग्रहण के लिए भूमि अधिग्रहण से सम्बंधित फ़ाईल कलेक्टर कोरिया को विगत लगभग 09 माह पूर्व प्रेषित की जा चुकी है, लेकिन वर्तमान समय तक कलेक्टर कोरिया के द्वारा पिछले एक वर्षों में आए विधानसभा, फिर लोकसभा, उसके बाद नगरीय निकाय और फिर पंचायत चुनावों के आचार संहिता के लगते रहने से इसमें कोई भी कार्यवाही नहीं की गई है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि भूमि अधिग्रहण प्रक्रिया के अलावा राज्य सरकार द्वारा अपने हिस्से की 50% राशि 120 करोड़ 50 लाख रुपए जारी किया जाना अभी भी शेष है। जिसे जल्द से जल्द जारी करते हुए चिरमिरी मनेन्द्रगढ़ शहर सहित नागपुर बेल्ट पंचायतों के स्थायित्व के लिए इस महत्वपूर्ण योजना को पूर्ण किया जाना अतिआवश्यक है। इस रेल लाइन के बनने से अंबिकापुर से चलने वाली सारी गाड़ियां चिरमिरी - मनेंद्रगढ़ होकर गुजरेगी। जिससे दोनों शहरों की जीवन रेखा में व्यावसायिक व सामरिक काफी बदलाव आएगा।

इस दौरान पूर्व महापौर श्री रेड्डी के द्वारा संज्ञान में लाई गई इस चिरमिरी मनेन्द्रगढ़ हित की बातों को गंभीरता से लेते हुए विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत ने कहा कि भूमिअधिग्रहण प्रक्रिया पूर्ण करने कलेक्टर कोरिया को निर्देशित करेंगे। इसके साथ ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से चर्चा कर राज्य सरकार के मद की राशि 120 करोड़ 50लाख जारी करवाने का कार्य जल्द पूर्ण किया जाएगा।

श्री रेड्डी ने आगे बताया कि विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने आश्वस्त किया है कि चिरमिरी मनेन्द्रगढ़ सहित सम्पूर्ण कोरिया ज़िले के हित के लिए वे सदैव तत्पर हैं।

Share To:

Post A Comment: