कमिश्नर ने सुधान्शु वर्मा सहायक आयुक्त को विभागीय जांच हेतु जारी किया आरोप पत्र

अविनाश शर्मा
शहडोल मध्य प्रदेश
6261959407

 कमिश्नर शहडोल संभाग श्री आर0बी0 प्रजापति ने श्री सुधान्शु वर्मा तत्कालीन सहायक आयुक्त आदिवासी विकास शहडोल वर्तमान सहायक आयुक्त आदिम जाति कल्याण विभाग बालाघाट को विभागीय जांच हेतु मध्यप्रदेश सिविल सेवा (वर्गीकरण, नियंत्रण तथा अपील) नियम 1966 के नियम-9 के अन्तर्गत विभागीय जांच प्रस्तवित किये जाने हेतु आरोप पत्र जारी कर कहा है कि अपना प्रतिवाद पत्र प्राप्ति के 15 दिवस के भीतर अनिवार्य रूप से प्रस्तुत करते हुए बताएं कि क्या आप व्यक्तिगत सुनवाई चाहते है? क्या आप मौखिक जांच करवाना चाहते है? क्या आप गवाह प्रस्तुत करना चाहते है? क्या आप अभिलेख प्रस्तुत करना चाहते है? यदि हाॅ तो सूची प्रस्तुत करें। प्रतिवाद समयावधि मे प्राप्त नही होने पर यह समझा जाएगा कि आपको आरोप स्वीकार है एवं आगामी कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। 

जारी आरोप पत्र मंे लेख किया गया हैं कि आपके द्वारा सहायक आयुक्त आदिम जाति कल्याण विभाग शहडोल के पद पर 8-04-2013 से 24-7-2017  के माध्य पदस्थ रहते हुए  वर्ष 2013-14 से 2016-17 तक प्रस्तवित बजट पाण्डेय शिक्षा समिति आदिवासी कन्या उच्चतर माधमिक विद्यालय  जयसिंहनगर के लिए वर्ष 2013-14 में 4466040 एवं आवासीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय टिहकी के लिए 4305014 तथा आदिवासी बालक छात्रावास टिहकी के लिए 683376 रूपये  वर्ष 2014-15 में  आदिवासी कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय जयसिंहनगर के लिए 4516910 एवं आवासीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय टिहकी  के लिए 5302275 एवं आदिवासी बालक छात्रावास टिहकी के लिए 779376, वर्ष 2015-16 में  आदिवासी कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय जयसिंहनगर के लिए 6791528 आवासीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय टिहकी  के लिए 5542448 एवं आदिवासी बालक छात्रावास टिहकी के लिए 1549960 एवं वर्ष 2016-17 में आदिवासी कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय जयसिंहनगर के लिए 8759484, आवासीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय टिहकी  के लिए 8388912 एवं आदिवासी बालक छात्रावास टिहकी के लिए 2148908 रूपये का अनुदान स्वीकृत हेतु बिना आकलन किये ही निर्देशक पाण्डये शिक्षा समिति से प्राप्त कर प्रस्ताव पर अनुशंसा की जाकर आयुक्त आदिवासी विकास भोपाल को भेजा गया। जबकि आपके कारण अनुदान स्वीकृत की अनुशंसा के पूर्व उक्त संस्थान का विधिवत रूप से निरीक्षण किया जाना चाहिए। किन्तु बिना निरीक्षण के प्रस्ताव प्रेषित किया गया। उक्त कृत्य मध्यप्रदेश सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के नियम 03 के विपरीत है। इसी प्रकार पाण्डये शिक्षा समिति भमरहा जिला सतना द्वारा संचालित आवासीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय जयसिंहनगर एवं आदिवासी बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय टिहकी में कार्यरत कर्मचारियों की जो सूची अनुमोदित की गई है उसमे संयुक्त संचालक  लोक शिक्षण शहडोल के द्वारा प्रस्तुत जांच प्रतिवेदन अनुसार भिन्नता पाई गई है। अनुदान राशि हेतु अनुशंसा, प्राप्त अनुदान राशि की स्वीकृत के पूर्व संस्था में पदस्थ कर्मचारियों के परीक्षण के पश्चात ही राशि स्वीकृत किया जाना चाहिए किन्तु ऐसा नही किया गया । जिससे समिति द्वारा अन्य व्यक्तियो के नाम से अनुदान राशि प्राप्त कर वित्तीय अनियमितता की गई। आपका उक्त कृत्य मध्यप्रदेश सिविल सेवा  आचरण नियम 1965  नियम 03 के विपरीत है।

मध्यप्रदेश शासन आदिम जाति कल्याण विभाग मंत्रालय भोपाल द्वारा दिए गए निर्देशानुसार अशासकीय संस्थाओं में कार्यरत कर्मचारियो के वेतनभत्ते का भुगतान सीधे उनके बैंक खाते में जमा कराया जाना था। किन्तु आपके द्वारा शासन के नियमों के विपरीत आवासीय संस्थाओं में कार्यरत कर्मचारियों के वेतन भत्ते के राशि पाण्डये शिक्षा समिति के स्टैट बैंक खाता क्रमांक 31535458145 में जमा कराई गई । जिससे उक्त समिति द्वारा अनुदान अनुसार कर्मचारियो के वेतनभत्ते की राशि प्रदाय न कर मनमाने तौर पर कम राशि का भुगतान कर कर्मचारियोें का शोषण किया गया। संयुक्त संचालक लोक शिक्षण शहडोल के जांच प्रतिवेदन अनुसार पाण्डये शिक्षा समिति द्वारा आवासीय विद्यालय जयसिंहनगर एवं आदिवासी बालक छात्रावास टिहकी के कर्मचारियों को कम राशि का भुगतान किया गया है जो कि मध्यप्रदेश सिविल सेवा  आचरण नियम 1965  नियम 03 के विपरीत है।

Share To:

Post A Comment: