चलिये आज आपको वो कहानी सुनाता हूँ जिसे न तो देश के टीवी चैनल आपको बताएँगे न अखबार। 

कोरोना वायरस हिंदुस्तान पहुँच चुका है। अब तक दुनिया के 65 देशों मे 80 हजार से ज्यादा लोग इससे प्रभावित हैं 3 हजार से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं। हमारे यहाँ नोएडा, आगरा, दिल्ली और हैदराबाद मे लगभग एक दर्जन लोग ऐसे मिले हैं जिनमे या तो कोरोना वाइरस कनफर्म हुआ है या उनमे वायरल लोड ज्यादा मिला है। खबर यह नहीं है, खबर इलाज की है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अब तक एक ही  एंटी वायरल दवा को इसके इलाज के लिए उपयोगी माना है वो है Remdesivir। चीन के वुहान मे जहां कोरोना का संक्रामण चरम पर है , इस दवा का दो चरणों मे ट्रायल हो चुका है, तीसरे चरण का ट्रायल कुछ घंटों पहले शुरू हुआ है। पूर्व मे यह दवा इबोला और निपाह वायरस पर बेहद प्रभावी साबित हो चुकी है। दिलचस्प यह है कि इस दवा को दुनिया मे केवल एक कंपनी बनाती है जिसका नाम है Gilead sciences। खबर यह भी नहीं है खबर यह है कि इस कंपनी को जिन 9 लोगों की टीम चलाती है उनमे एक नाम ज्योति मेहरा का है। |

खबर यह भी है कि ज्योति नेहरा 'इन्टरनेशनल स्टडी' मे जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट हैं।

Share To:

Post A Comment: