व्यापारी संगठन जमाखोरी एवं कालाबाजारी रोकने करे पहल- कलेक्टर

आवश्यक सामग्री की उपलब्धता बनाए रखने व्यापारी संघों की बैठक सम्पन्न


अविनाश शर्मा
शहडोल मध्य प्रदेश
6261959407

शहडोल .......कलेक्टर  एवं जिला मजिस्टेªट डाॅ. सतेन्द्र सिंह ने आज कलेक्टेªट सभागार में जिले के व्यापारी संगठनों के  पदाधिकारियों की बैठक लेकर कहा है कि कोरोना वायरस के कारण उपजे वैश्विक आपदा से निपटने हेतु व्यापारी संगठनों के पदाधिकारी यह सुनिश्चित कराएं की जिले में जमाखोरी एवं कालाबाजारी न होने पाए पूर्व के दरो के अनुसार ही रोजमर्रा की उपयोग की आवश्यक वस्तुएं उपलब्ध कराई जाए। सभी दुकानों में सामग्रीयों की दर की सूची लगाई जाए तथा सभी व्यापारी अपनी जवाबदारी एवं निष्ठा के साथ आम जन तथा जिला प्रशासन का सहयोग करें। उन्होने कहा है कि यदि कही से कालाबाजारी या  जमाखोरी की शिकायते मिलेगी तो भारतीय दण्ड संहिता की धारा 188 एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की  धारा 51 से 60 के तहत  सख्त वैधानिक कार्यवाही  की जाएगी। बैठक में अपर कलेक्टर श्री अशोक ओहरी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ0 ओ0पी0 चैधरी, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री मिलिंद नागदेवे, जिला खाद्य आपूर्ति अधिकारी श्री कमलेश टाण्डेकर सहित जिले के व्यापारी संगठनों के पदाधिकारी उपस्थित थें

कलेक्टर डाॅ0 सतेन्द्र सिंह ने बैठक में कहा कि दुकानों में आने वाले मरीजों के लिए आवश्यक निर्धारित एक मीटर की दूरी बनाए रखना तथा सेनेटाइजर एवं मास्क का उपयोग कराना सुनिश्चित करें। बैठक में बताया गया कि मास्क एवं सेनेटाइजर की भी उपलब्धता सुनिश्चित कराएं तथा अधिक दर पर विक्रय नही करें। बैठक में व्यापारियों द्वारा यह बताए जाने पर की इलाहाबाद से एवं छिन्दवाड़ा से आवश्यक वस्तुओ के वाहनों की अवाजाही नही होने दी जा रही है इस पर कलेक्टर ने बैठक में ही तत्काल वहां के  कलेक्टरों एवं पुलिस अधीक्षकों से दूरभाष पर चर्चा कर आवश्यक वस्तुओं के वाहनों को शीघ्र रवाना कराए जाने की चर्चा की। इसी प्रकार उमरिया जिले के चांदिया में वाहनों के रोके जाने की जानकारी मिलने पर कलेक्टर ने वहां के जिला मजिस्टेªट एवं पुलिस अधीक्षक से भी चर्चा की। उन्होने सभी व्यापारी संगठनांे के पदाधिकारी से कहा कि शासन द्वारा पीडीएस दुकाने, किराना, फल एवं सब्जी की दुकान, डेयरी एवं दूूध की दुकान, माॅस, मछली एवं दवा दुकानें सहित आवश्यक उपयोग की चीजों से संबंधित सभी दुकानों का प्रतिबंध लागू नही होगा। उन्होने कहा कि किसी भी जनमानस को आवश्यक उपयोग की वस्तुओं के लिए भटकना न पड़े यह हम सब की मानवीय जिम्मेदारी भी है, परन्तु अनावश्यक रूप से घरों से बाहर निकलना एवं भीड़ लगाना किसी भी तरह से जनहित में उचित नही है इसका सभी आम नागरिक ध्यान रखें और पालन भी करें।

Share To:

Post A Comment: