सिराली :- कोरोना वायरस के प्रसार पर अंकुश लगाने हेतु पुलिस ने लाॅकडाउन को मुकम्मल तौर पर लागू करने के लिए सख्ती बरतनी आरंभ कर दी है। इसी सख्ती का नतीजा है कि बुधवार को नगर के बाजार व सड़कें सूनी नजर आईं। नगर में पुलिस की गश्त जारी है। सड़कों पर अनावश्यक घूमने वालों को फटकार कर भगाया जा रहा है। हाइवे जरूर वीरान हैं।

पुलिस ने बेवजह सड़कों पर घूमने वालों से लगवाई उठक-बैठक

नगर में लाॅक डाउन के चौथे दिन बुधवार को पुलिस ने सड़कों पर बेवजह घूमने वालों पर सख्ती दिखाई। ऐसे लोगों से पुलिस ने कान पकड़ाकर उठक-बैठक लगवाई। मैं समाज का दुश्मन जैसे स्लोगन लिखी तख्ती हाथ में देकर उनके फोटो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिए। आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को छोड़कर बेवजह घूमने वाले बाइक चालकों व अन्य वाहनों को रोकने के लिए पुलिस ने कड़ी नाकेबंदी की। 

सिराली में कर्फ्यूजैसी स्थिति

नगर में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन की पालना के लिए बुधवार को पुलिस को सख्ती का रास्ता अख्यतार करना पड़ा। बाजार में अनावश्यक रुप से घूम रहे लोगों को पुलिस ने कई जगह पुलिस अंदाज में समझाया। कई जगह तो पुलिस को बाइक चालकों के पोस्टर लगाकर उन्हें समझाइश करनी पड़ी। बार-बार समझाइश करने के बावजूद नहीं मानने पर बाजार आने वाले कुछ युवकों की बाइक को पुलिस ने जब्त कर लिया। पुलिस की सख्ती बढ़ी तो नगर के बाजारों का नजारा कर्फ्यू जैसा बन गया।

मंगलवार को प्रशासन ने आवश्यक सेवाओं की दुकानों को सुबह 7 से 10 बजे तक खोलने का एलान किया। लेकिन  नगर में किराना व सब्जी की दुकान जैसे ही खुली यहां लोगों की भीड़ उमड़ पडी। निर्धारित समय 10 बजे बाद भी दुकाने बंद नहीं होने पर पुलिस  हाथों में डंडे लेकर पहुंचे और दुकानों को बंद कराई। इसी कारण प्रशासन द्वारा बुधवार से किराना एवं सब्जी की दुकान ना खोलें एवं जरूरी सामान की व्यवस्था घर पहुंच कर देने की उपलब्ध कराई।

ग्रामीण क्षेत्रों में भी रही पुलिस की सख्ती, नहीं निकलने दिया घरों से

ग्रामीण क्षेत्रमें भी पुलिस की सख्ती रही। पुलिस ने लोगों को बाजारों में नहीं घूमने दिया। समझाइश कर उन्हें घर भेजा। इसी प्रकार नगर के आसपास छोटे-छोटे ग्रामीण क्षेत्र में भी पुलिस ने सख्ती रखी।  पुलिस-प्रशासन ने अनावश्यक रूप से घूम रहे लोगों को घरों में रहकर प्रशासन का सहयोग करने के लिए समझाया।



Share To:

Post A Comment: