कोरोना वायरस की जानकारी एवं साॅवधानी ही बचाव-कलेक्टर

कलेक्टर ने कोरोना वायरस से बचाव हेतु तैयारियों के संबंध सीएमएचओ से ली जानकारी 


अविनाश शर्मा/शहडोल मध्य प्रदेश

6261959407

शहडोल।।कलेक्टर श्री ललित दाहिमा ने जिले में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिये किये गये उपायों के संबंध में  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ0 ओ0पी0 चैधरी से जानकारी प्राप्त की। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि जिले मंे रेपिड़ रिस्पाॅस टीम का गठन किया गया है तथा कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजो के लिए पृथक से वार्ड का निर्माण जिला चिकित्सालय मंे किया गया है। रेपिड़ रिस्पाॅस टीम में डाॅक्टरो की विशेषज्ञता का ध्यान रखा गया है तथा पृथक से ओपीड़ी बनाई गई है। कलेक्टर श्री ललित दाहिमा ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया कि कोरोना वायरस संक्रमण एवं बचाव की जानकारी आमजन मानस तक पहॅुचायी जायें तथा इसके लिए इलेक्ट्राॅनिक एवं प्रिंट मीडिया का भी सहयोग लिया जायें। कलेक्टर ने निर्देशित किया कि कोरोना वायरस से संबंधित जाॅच एवं उपचार तथा आवश्यक दवाएॅ की उपलब्धता सुनिश्चित की जायें, साथ ही विदेशों से आएॅ मरीजो का कोरोना वायरस संबंध मंें जाॅच कराया जायंे एवं उनकी पृथक से जानकारी भी रखी जायें। 

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने जानकारी दी है कि राज्य स्तर पर जानकारी के लिये हेल्पलाईन टोल फ्री नम्बर 104 स्थापित किया गया है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस से बचाव  एवं रोकथाम हेतु सजग करने के लिए उत्कृष्ट विद्यालयों में सेटकाॅम्स के माध्यम से जानकारी प्रदान की गई। खाँसी, जुकाम या बुखार से पीड़ित व्यक्ति से कम से कम एक मीटर की दूरी बनाये रखने कहा जायेगा। खाँसी, जुकाम, बुखार या साँस लेने में  तकलीफ की दशा में तत्काल चिकित्सक से संपर्क करने बुखार या सर्दी-जुकाम की दशा में यात्राएं टालने की समझाइश विद्यार्थियों को दी गई। 

एडवाइजरी के अनुसार कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति के खाँसने या छींकने से हवा द्वारा फैलता है। संक्रमित व्यक्ति के निकट संपर्क, छूने या हाथ मिलाने संक्रमित सामग्रियों के संपर्क में आने के बाद आँख या नाक को छूने से भी यह फैलता है। नागरिको को चाहिए कि संक्रमित व्यक्ति के निकट संपर्क में आने से बचें। अपने हाथ बार-बार धोते रहें। संक्रमित सामग्रियो के संपर्क में आने के बाद आँख या नाक को छूने से बचें। नागरिको को सलाह दी गई है कि सामान्य सर्दी-खाँसी, बुखार होने पर चिकित्सक की सलाह लें एवं घर में आराम करें। 

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ0 ओ0पी चैधरी ने बताया कि ऐसे व्यक्ति पिछले 14 दिनो के दौरान चीन देश की यात्रा किए हो और अचानक बुखार, खाॅसी तथा साॅस लेने मंे परेशानी लक्षणों मंे से एक से अधिक लक्षण परिलक्षित हो ये तत्काल निकतम स्वास्थ्य केन्द्र मंे अपना निःशुल्क इलाज कराएॅ। उन्होनंे ने बताया कि इसके प्रसार को रोकने के लिए खाॅसते और छीकते समय रूमाल या कोई कपड़ा रखे जिससे वायरस का प्रसार वातावरण में रोका जा सकें। वर्तालाप करते समय एक हाथ या उससे अधिक दूरी बनाकर रखना चाहिए। हाथो की सफाई बार-बार करें । यदि संभव हो सकें तो भोजन ग्रहण करने भोजन के बाद शौच के बाद साबुन या बीसंक्रामक घोल से हाथ धोएॅ। कोरोना वायरस लक्षण प्रगट होने पर भीड़-भाड़ वाले स्थानो जैसे माॅल, बाजार, मेला आदि स्थानो से जाने से परहेज करें।   

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ0 ओ0पी चैधरी ने बताया कि जिला चिकित्सालय में कोरोना वायरस वार्ड पृथक से बनाया गया है। यदि किसी मरीज को कोरोना वायरस के लक्षण पायें जाते है तो उनका उपचार पृथक बनाएॅ गए वार्ड मंे रख कर कराया जायेगा।

Share To:

Post A Comment: