धनपुरी में गुलजार हो रही बावनपरी , मनोज का मुखौटा चतुर की चतुराई , जुआ के फड़ पुलिस आज तक नही पहुच पाई


अविनाश शर्मा कलयुग की कलम 

शहडोल (मध्य प्रदेश) 6261959407

शहडोल/धनपुरी । जुआ खलने खिलाने को लेकर अपनी अलग पहचान बनने वाले चतुर की चतुराई के आगे धनपुरी पुलिस भी बौनी साबित हो रही । नतीजा खुलेआम एक नंबर दफाई बंद खदान के समीप मनोज के संरक्षण में बावनपरी के साथ साथ घोड़ी नाच रही है। इस बावनपरी घोड़ी के प्रेमी दूर दराज से यहां शिरकत मार्फा रहे है । सुबह से लेकर देर रात चल रहे इस जुए के फड़ में लाखों दांव लग रहे ।जिसमे चतुर अपनी चतीराई से हजारों का नाल निकाल शराबखोरी कर उत्पात मचा रहा । जिससे क्षेत्रवासी काफी परेशान है । यहां आने वाले जुआ प्रेमी य्या तो मालामाल हो जाते है या फिर कंगाल …..

इस पूरे मामले की जानकारी पुलिस को है या नही ये तो धनपुरी पुलिस ही जाने हॉ लेकिन ये जरूर है कि इस जुए के फड़ की जानकारी उक्त क्षेत्र के बच्चे बूढ़े और जवान की जुबान पर है । धनपुरी थाना क्षेत्र के दफसी नं 1 में पिछले कुछ दिनों से खुलेआम बावन पारी का खुला खेल बदस्तूर जारी हैब। जिसके लिए जुए के इस खेल का उभरता हुआ सितार मनोज रोज अपने किस्मत की जोर आजमाइश में लगा हुआ है। और रोजाना लाखो का वारा न्यारा अपने आक़ा की चतुराई में कर रहा है । सूत्रों की माने तो इस बावनपरी के खेल में कई कर्मचारी अपनी किस्मत आजमाइस करने पहुच रहे ,और वहां मौजूद सूदखोरों को चंगुल में फस कर अनाप सनाप ब्याज में पैसा ले जुआ दांव लगा कर्जदार हो रहे है। कर्मवीर अपने खून पसीमे की गाढ़ी कमाई जुआ में हार घर मे कलह उत्पन्न करते है। आलम यह है कि जुए के गिरफ्त में फसे इन कर्मवीरों के घर उजाड़ रहे है। और हालात ये तक निर्मित हो रहे कि उनके घरो में खाने के लाले पड़ गए है।सेटिंग का ऐसा खेल मास्टर माइंड को छोड़ सब हो रहे कंगाल

जुए से जुड़े औत्रो कई माने तो उक्त क्षेते में चल रहे जुए के इस खेल में उपयोग होने वाली बावनपरी में भी कलाबाजी की जाती है। जिससे खेलने वाले रोजाना कंगाल होकर उल्टे पाव लौट रहे जबकि खिलाने वाला दिन प्रतिदिन मालामाल हो रहे है । ऐसा ही कुछ हाल घोड़ी का है । सूत्रों की माने तो मैग्नेटिक घोड़ी का इस्तेमाल किया जा रहा । जिसका रिमोट कंट्रोल जुआ संचालक के पास पर्दे के पीछे रहता है । जैसे ही बड़ा दांव लगा रिमोट का बटन दबा और सारी लक्ष्मी उस चकरी के डिब्बे में चली जाती है । जरूरत है धनपुरी पुलिस को इस ओर संजीदगी से कार्यवाही करने की ..

Share To:

Post A Comment: