परंपरा अनुसार सौहार्द और शांतिपूर्ण ढंग से मनाये होली त्यौहार, शांति समिति की बैठक सम्पन्न

कलयुग की कलम ग्रामीण रिपोर्टर कटनी :-

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी शशिभूषण सिंह की अध्यक्षता में मंगलवार को पुलिस कन्ट्रोल रुम में सम्पन्न शांति समिति की बैठक में जिले के नागरिकों से गौरवशाली परम्परा के अनुरुप शालीनता, सौहार्द और शांतिपूर्ण ढंग से रंगों का त्यौहार होली मनाने की अपील की गई है। इस मौके पर अपील की गई है कि केवल गुलाल और हर्बल रंग के साथ होली खेली जाये और किसी भी प्रकार की मिट्टी या कीचड़ का उपयोग नहीं हो। बैठक में पुलिस अधीक्षक ललित शाक्यवार, अपर कलेक्टर जयेन्द्र कुमार विजयवत, वन मण्डलाधिकारी आर0के0 राय, आयुक्त नगर निगम ए0बी0 सिंह, सीएसपी एम0पी0 प्रजापति, सहायक आयुक्त आबकारी पी0एल0 राकेश, तहसीलदार मुनौव्वर खान, संदीप श्रीवास्तव, विभिन्न विभागों के अधिकारी, सभी पुलिस थानों के टीआई और शांति समिति के सदस्यगण उपस्थित थे। शांति समिति की बैठक में कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि होली के अवसर पर कानून और शांति व्यवस्था बनाये रखने और सभी आवश्यक व्यवस्थाओं के लिये विभागों के अधिकारियों को दायित्व निर्वहन के लिये ड्यूटी लगाई गई है। उन्होने बताया कि होली के दिन शहर में भारी वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। बच्चों की परीक्षाओं के मद्धेनजर डीजे बजाने और लाउडस्पीकर के प्रयोग तथा कोलाहल प्रतिबंधित रहेगा। होली के लिये हरे-भरे वृक्ष नहीं काटे जायें। इसके लिये वन विभाग के अमले को सतत् निगरानी रखने के निर्देश दिये गये। वन मण्डल के डिपो में शासकीय दर पर लकड़ी विक्रय के लिये उपलब्ध रहेगी। होलिका दहन बिजली के तारों और ट्रान्सफार्मर्स के समीप या डामरयुक्त व अन्य सड़क पर नहीं किया जाये। त्यौहार के अवसर पर विद्युत की आपूर्ति सुनिश्चित रहे, इसके लिये विद्युतकर्मी कन्ट्रोल रुम में बैठेंगे। जिला अस्पताल में इमर्जेन्सी स्वास्थ्य सेवायें चाक-चौबंद रखी जायेंगी। कन्ट्रोल रुम में एम्बुलेन्स और फायर ब्रिगेड मौजूद रहेंगे।

होली के त्यौहार में जबरन चन्दा वसूली नहीं होगी और ना ही रंगों के स्थान पर पीली व लाल मिट्टी का उपयोग किया जायेगा। पुलिस अधीक्षक ने विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि बाईक पर दो से अधिक व्यक्तियों पर चालानी कार्यवाही करें एवं नशे की हालत में वाहन चलाने वालों पर भी नजर रख आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित की जाये। आयुक्त नगर निगम ने बताया कि होली के दिन दोपहर के समय 2 बजे विशेष रुप से जलापूर्ति की जायेगी। होली के त्यौहार पर किसी भी तरह की अप्रिय घटना की संभावना पर पुलिस के डायल-100 पर सूचना दी जा सकेगी। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि पारम्परिक उल्लास और सौहार्द के वातावरण में होली का त्यौहार मनायें। किसी का त्यौहार किसी के लिये परेशानी का सबब नहीं बने, इसका ध्यान रखें। उन्होने सभी संबंधित अधिकारियों, कर्मचारियों को दी गई जिम्मेदारी का गंभीरता पूर्वक कुशल निर्वहन करने के निर्देश भी दिये हैं। होली के दूसरे दिवस 11 मार्च को स्थानीय अवकाश रहेगा। इसके साथ ही 10 मार्च को जिले की सभी मदिरा दुकानें बंद रखे जाने का निर्णय शांति समिति की बैठक में लिया गया। होलिका दहन के बाद नगर निगम के अधिकारियों को आवश्यक साफ-सफाई व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश बैठक में दिये गये। साथ ही आम नागरिकों से भी अपील की गई है कि वे गंदगी न फैलाते हुये साफ-सफाई का विशेषकर ध्यान रखें और अच्छी क्वालिटी के रंगों का उपयोग करें।

Share To:

Post A Comment: