“मोदी सरकार का कोरोना राहत पैकेज जनता के साथ धोखा “

“दिहाड़ी मज़दूरों को आर्थिक सहायता नाकाफ़ी “

“वित्तमंत्री का बिना राशन सिर्फ़ आश्वासन “

“मीडिया के पत्रकार ,पुलिसकर्मी एंव नगरनिगम कर्मचारीयो का बीमा नहीं “

“कोरोना को लेकर मोदी सरकार लापरवाह आर्थिक पैकेज ऊँट के मुँह में ज़ीरा समान”

कलयुग की कलम 

म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी के प्रदेशसचिव राकेश सिंह यादव ने भाजपा की मोदी सरकार पर आरोप लगाया हैं की कोरोना को लेकर आर्थिक पैकेज की घोषणा ने मोदी सरकार की जनता के प्रति जवाबदेही की पोल खोल दी हैं ।गरीब वर्ग को आज भी मोदी सरकार की वित्त मंत्री से बिना राशन का आश्वासन मिला हैं।आज गरीब कोरोना वायरस और भूख से संघर्ष कर रहा हैं वहीं वित्त मंत्री और अनुराग ठाकुर चुनावी घोषणा पत्र पढ़कर जनता को मूर्ख बना रहे हैं।

देश में बिना तैयारी के लॉकडाउन करने के बाद भी व्यवस्था संभालने में मोदी सरकार के मंत्री तत्पर नज़र नहीं आते हैं।कोरोना वायरस में आवश्यक सेवाओं में लगे डाक्टरों के बीमे की घोषणा की गई लेकिन मीडिया के पत्रकारों (प्रिंट एंव इलेक्ट्रॉनिक मीडिया) एंव पुलिसकर्मियों तथा सफ़ाईकर्मीयो के साथ ही प्रशासन के अधिकारियों एंव कर्मचारियों के लिए सुरक्षा बीमा नहीं दिया गया जबकि ये सभी अपनी ज़िंदगी को ख़तरे में डालकर दिनरात सेवाएँ दे रहे हैं।लेकिन मोदी सरकार की ये दोहरी नीति का परिणाम हैं की देश के लिए लगातार सेवा कर रहे इन लोगों के लिए बीमे की सुविधा नहीं दी गयी हैं।यह अत्यन्त शर्मनाक हैं।कॉंग्रेस केंद्र सरकार से मॉंग करती हैं की तत्काल अतिआवश्यक सेवाओं में कार्य करने वाले प्रत्येक व्यक्ति का बीमा केंद्र सरकार कराये जिससे की सेवा देने वाले कर्मचारियों एंव पत्रकारों में सुरक्षा भाव आ सके।

इस संदर्भ में माननीय प्रधानमंत्री को भी पत्र लिखकर मॉंग की गई हैं की उपरोक्त विषय पर तत्काल निर्णय करके आदेश प्रदान किये जाना चाहिए।


राकेश सिंह यादव
प्रदेशसचिव
म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी
भोपाल



Share To:

Post A Comment: