नई दिल्ली। मध्यप्रदेश में सियासी भूकंप के चलते घोर उपेक्षा  के शिकार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया है, नरेंद्र मोदी से मुलाकात के बाद कांग्रस ज्योतिरादित्य सिंधिया को पार्टी से निकालना चाहती थी और इसी पर मंथन चल रहा था इस बीच सिंधिया ने स्वयं ही इस्तीफा देकर सारी अटकलों पर विराम लगाते हुए मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार के अंतिम संस्कार की स्क्रिप्ट लिख दी।मध्य प्रदेश के राज परिवार से आने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी ही पार्टी यानी कांग्रेस को सबसे बड़ा झटका दिया , कमलनाथ से नाराज चल रहे सिंधिया ने मंगलवार को कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया, सिंधिया ने खुद ट्वीट कर अपने इस्तीफे की जानकारी दी है,

इस्तीफा देने से पहले सिंधिया दिल्ली में सुबह अपने आवास से निकलकर सीधे गृहमंत्री अमित शाह से मिलने पहुंचे और इसके बाद शाह के साथ ही वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास पहुंच गए. पीएम के आवास पर सिंधिया की बैठक सुबह 10.45 बजे शुरू हुई।

करीब एक घंटे तक पीएम नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच बैठक चली, पीएम मोदी से मुलाकात के बाद सिंधिया अमित शाह की कार में बैठकर ही बाहर निकले,इससे पहले सिंधिया अपने आवास से अकेले खुद कार चलाकर अमित शाह के घर पहुंचे थे, जहां से अमित शाह के काफिले में लोक कल्याण मार्ग पर पीएम आवास पहुंचे, पीएम मोदी से मुलाकात के बाद ही ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया।

Share To:

Post A Comment: