संपूर्ण समाधान दिवस पर जिलाधिकारी ने सुनी जन समस्याएं

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
      प्रयागराज
विकास कुमार पटेल

जिलाधिकारी ने सम्पूर्ण समाधान दिवस में मेजा तहसील के जनसामान्य की शिकायतों को सुना जनसामान्य की शिकायतों को समयबद्ध रूप से निस्तारित करने के दिये निर्देश

सम्पूर्ण समाधान दिवस में 259 शिकायतों में से कुछ मामलों का मौके पर किया गया निस्तारण

03 मार्च, 2020 प्रयागराज।

जिलाधिकारी प्रयागराज  भानुचंद्र गोस्वामी ने सम्पूर्ण समाधान दिवस में तहसील मेजा में जनसामान्य की शिकायतों को सुनते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को समयबद्ध रूप से निस्तारण के निर्देश दिये। सम्पूर्ण समाधान दिवस में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सत्यार्थ अनिरूद्ध पंकज, मुख्य विकास अधिकारी आशीष कुमार सहित सम्बन्धित अधिकारीगण मौजूद रहे।

समाधान दिवस पर जिलाधिकारी ने प्रत्येक आवेदनों को गम्भीरता पूर्वक पढ़ते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को समय से गुणवत्तापूर्ण निस्तारण सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। समाधान दिवस में अपनी समस्या लेकर आये हुए धर्मशंकर सिंह पुत्र मेवा सिंह निवासी लोहरा, मेजा प्रयागराज ने अपनी शिकायत में कहां कि उनके घर तक इंटरलाकिंग रोड का निर्माण होना था परंतु ग्राम विकास अधिकारी व ग्राम प्रधान की मिली भगत के कारण सड़क का निर्माण नहीं कराया जा रहा है, जिसपर जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारी को मामले की जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। योगेश कुमार पुत्र उमाशंकर ने अंत्योदय राशनकार्ड पूर्व की भांति नेट में उपलब्ध न होने की शिकायत की, जिसपर जिलाधिकारी ने आपूर्ति निरीक्षक उरवा को मामले की जांच करने के निर्देश दिए। अवधेश प्रसाद निवासी मेजा ने शिकायत की है कि ग्राम दिघलो मेजा में विगत तीन वर्ष से चकबंदी प्रक्रिया नहीं हुई, जबकि स्थलीय सर्वेक्षण का कार्य सम्पन्न हो चुका है, जिसपर जिलाधिकारी ने इस मामले में एसडीएम मेजा को मामले की जांच कर चकबंदी की प्रक्रिया को पूरा कराने के निर्देश दिए। कमल नारायण निवासी माण्डा खास ने जल निगम विभाग की लीक पाइप को दुरूस्त कराने के सम्बन्ध में शिकायत की, जिसपर जिलाधिकारी ने अधिशाषी अभियंता जल निगम को लीक पाइप को सही कराने के निर्देश दिए। कमलेश कुमार निवासी मेजा ने शिकायत की कि उनके मकान के सामने सड़क पर बारिस व गांव के नाले का पानी भर जाता है, जिससे सड़क से गुजरने वाले राहगीरों, स्कूली बच्चों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। प्रार्थी के द्वारा इस मामले की शिकायत कई बार की जा चुकी है, जिसपर कोई कार्रवाई अभी तक नहीं की गयी है। जिलाधिकारी ने बीडीओ माण्डा को मामलें की जांच कर नियमानुसार आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। कमल नारायण निवासी माण्डा खास ने जर्जर हो चुकी सड़क को बनवाने के सम्बंध में जिलाधिकारी महोदय के समक्ष अपना प्रार्थना पत्र दिया, जिसपर जिलाधिकारी ने जल निगम के अधिकारियों को मौके पर जाकर निरीक्षण कर मामले का समाधन करने को कहां।

जिलाधिकारी ने कहां कि समाधान दिवस में ज्यादातर शिकायतें लेखपाल एवं कानूनगों के स्तर पर आती है, उन्होंने लेखपाल एवं कानूनगों को सख्त हिदायत देते हुए कहा कि उनसे सम्बन्धित प्रकरणों को जमीनी स्तर पर जाकर निष्पक्ष जांच करते हुए प्रकरणों को समयबद्धरूप से निस्तारित करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि प्रकरणों को वेवजह लम्बित न रखा जाय, नही तो सम्बन्धित के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। प्रकरणों में यदि फर्जी रिपोर्ट लगाकर निस्तारित किये गये तो सीधे बर्खास्त किया जायेगा। उन्होंने सभी सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिये कि जो भी आवेदन, जिस विभाग से सम्बन्धित है, अधिकारी उसे गम्भीरता से ले और समयबद्ध रूप से शिकायतों का निस्तारण सुनिश्चित करें। उन्होंने कहां कि सरकार के द्वारा दिये निर्देशों का अनुपालन करें तथा लोगो की समस्याओं को निस्तारित करें। सरकार द्वारा चलायी जा रही जन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी समाज के अन्तिम व्यक्ति तक पहुंचे तथा उसे उसका लाभ मिल सके।

सम्पूर्ण समाधान दिवस में कुल 259 शिकायते आयी, जिनमें पुलिस से सम्बन्धित 24, राजस्व से सम्बन्धित-92, विकास से सम्बन्धित 66 एवं अन्य 77 शिकायतें प्राप्त हुई, जिनमें से कई शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण सुनिश्चित किया गया।

तलाबों में पर्याप्त पानी भरने के जिलाधिकारी ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को दिए निर्देश

7 मार्च तक खराब पड़े शटर का डी0पी0आर0 करें तैयार-जिलाधिकारी, प्रयागराज

जिलाधिकारी प्रयागराज  भानुचंद्र गोस्वामी की अध्यक्षता में सिंचाई विभाग के नहर सफाई के सम्बंध बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी  आशीष कुमार सहित सभी सिंचाई विभाग के अभियंतागण मौजूद थे। उन्होंने स्पष्ट रूप से निर्देशित किया है कि नहर के किनारे से एक किमी की परिधि तक शत-प्रतिशत तलाब भरे होने चाहिए। इसकी जांच रिपोर्ट 02 दिनों के अंदर उपायुक्त मनरेगा  कपिल कुमार को देने के निर्देश दिए। उन्होंने नहर विभाग के अभियंताओं से सिल्ट सफाई कितनें नहरों में हुई तथा कितने में शेष है और कब तक हो जायेगी की जानकारी ली। उन्होंने नहरों में लगाये जाने वाले शटरों की स्थिति की जानकारी सम्बन्धित अधिकारी से ली तथा जो भी शटर खराब है, उनकी सूची उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। इसी के साथ 07 मार्च, 2020 तक उसका डी0पी0आर0 बनाकर प्रेषित करने के निर्देश दिये। उन्होंने सरकारी सिंचाई विभाग की कितनी जमीने और कहां पर अतिक्रमण है, उसका विवरण तलब किया। उन्होंने 02 दिन के अदंर अतिक्रमण से सम्बन्धित जानकारी उपलब्ध कराने के निर्देश अधिशाषी अभियंता सिंचाई विभाग को दिए।

जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला उद्योग बन्धुओं की बैठक सम्पन्न

उद्योग बंधुओं के प्रकरणों का निस्तारण प्राथमिकता के आधार पर करने के जिलाधिकारी ने दिए निर्देश

जिलाधिकारी प्रयागराज  भानु चंद्र गोस्वामी की अध्यक्षता में जिला उद्योग बन्धुओं की बैठक सम्पन्न हुयी। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी  आशीष कुमार, उपायुक्त उद्योग  ए0के0  चैरसिया एवं सम्बन्धित सभी अधिकारीगण एवं उद्योग बन्धुओं के पदाधिकारीगण मौजूद थे। जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को स्पष्ट रूप से निर्देशित किया कि उद्योग बन्धुओं को बिना कारण परेशान न किया जाये तथा जो भी प्रकरण है, उन्हें प्राथमिकता के तौर पर निस्तारण सुनिश्चित किया जाये। प्रकरणों में मुख्य रूप से युनाईटेड ग्रुप प्रयागराज, निवेश मित्र पोर्टल की समीक्षा की गयी। उ0प्र0 वित्तीय निगम द्वारा पूंजीगत ब्याज का लाभ न दिये जाने के सम्बन्ध में समीक्षा की गयी। यूपीसीड़ा से सम्बन्धित प्रकरणों के संदर्भ में समीक्षा की गयी तथा कुछ प्रकरणों का निस्तारण मौके पर कर दिया गया। उद्योग बंधु द्वारा विद्युत विभाग की शिकायत की गयी, जिसपर जिलाधिकारी ने 07 मार्च को अधिशाषी अभियंता विद्युत के साथ उपस्थित होकर प्रकरणों का निस्तारण सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया।





Share To:

Post A Comment: