“जनमत को ठगने वाला चार्ल्स शोभराज  महाठग हैं सिंधिया “

“चंबल की पहचान अब सिंधिया  की दग़ाबाज़ी “

“चम्बल अन्याय के ख़िलाफ़ न्याय की जंग लड़ने वालों के कारनामों से पहचाना जाता था

अब देश में सिंधिया की दग़ाबाज़ी के नाम पर पहचाना जायेगा”

म.प्र. की जनता के वोटों का अपमान करके जनमत का अपहरण करके सिंधिया ने चम्बल के पानी को भी कलंकित कर दिया हैं।सालो से चम्बल डकैतों के कारण जाना जाता रहा।ये वो डकैत थे जो की अन्याय के ख़िलाफ़ बंदूक़ उठाकर जंग लड़ते थे ।लेकिन डाकू बनने के बाद भी डकैतों के भी कुछ असूल और साफ़ नीयत होती थी।

लेकिन दग़ाबाज़ सिंधिया ने चम्बल के पानी को कलंकित कर दिया हैं।वैसे भी सिंधिया का पुस्तैनी रिकॉर्ड इतिहासों में दर्ज हैं।उस इतिहास के अनुरूप ही सिंधिया ने कार्य करके दग़ाबाज़ी की परंपरा को आगे बढ़ाया हैं।

म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी के प्रदेशसचिव राकेश सिंह यादव ने सिंधिया की तुलना चार्ल्स शोभराज से की हैं।जिस तरह चार्ल्स शोभराज ठगी करता था उसी तरह सिंधिया ने म.प्र. की जनता के वोटों की ठगी की हैं।जनमत को धोखे से ठगा हैं।सिंधिया महाराज नहीं चार्ल्स शोभराज  महाठग हैं।ये ख़ुद सिंधिया ने साबित किया हैं।

जनता के वोटों के ठग चार्ल्स शोभराज सिंधिया और इसकी गेंग के 22 महाठगों ने जनता के वोटों को करोड़ों में बेचकर ठगा हैं।इस ठगी का जनता जवाब देने को तैयार हैं।

सूत्रों के अनुसार करोड़ों का लेन -देन करके रिसॉर्ट्स में अय्याशी करने के बाद वोटों के ठग विधानसभा क्षेत्रों की सेवा करने आ रहे हैं।म.प्र. की जनता सीधी ज़रूर हैं लेकिन मूर्ख नहीं ।

चार्ल्स शोभराज सिंधिया और उसके 22 ठग पूर्व विधायको का हिसाब जनता को ही चुकता करना हैं ,जिससे म.प्र.में माफ़ियाँ के ख़िलाफ़ संघर्ष करने वाले एंव जनहित के कार्य भ्रष्टाचार से रहित करने वाले पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी वापस म.प्र.के मुख्यमंत्री बन सके।जनता के हितों को देखने वाले मुख्यमंत्री को जनता ही वापस लायेगी ये निश्चित हैं।क्योंकि कमलनाथ जी के साथ सिर्फ़ अब कॉंग्रेस ही नहीं म.प्र. की साढ़ेसात करोड़ जनता का आर्शिवाद हैं।

म.प्र.एंव ख़ासतौर से चम्बल के लोगों को यह तय करना हैं की म.प्र. को चार्ल्स शोभराज सिंधिया की दग़ाबाज़ी के दाग से कैसे मुक्त किया जाये।इसका एक मात्र विकल्प हैं आने वाले विधानसभा उपचुनाव में कॉंग्रेस को 24 विधानसभा सीटों पर एक तरफ़ा विजय बनाकर दग़ाबाज़ी का कलंक म.प्र. से हटाया जाये।चार्ल्स शोभराज सिंधिया और भाजपा को दग़ाबाज़ी की सजा दी जाये तभी हमारा लोकतंत्र सुरक्षित रहेगा।


राकेश सिंह यादव
प्रदेशसचिव
म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी
भोपाल
Share To:

Post A Comment: