मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अनूपपुर ज़िले द्वारा किए जा रहे प्रयासों को सराहा

पलायन कर रहे श्रमिकों को आश्रय व्यवस्था एवं ज़िले के प्रवासी लोगों की सहायतार्थ गठित किए गए हैं विशेष दल - कलेक्टर

कलयुग की कलम 

अविनाश शर्मा संभागीय ब्यूरो के साथ नामदेव (अनूपपुर मध्यप्रदेश

6261959407-7610528622 

शहडोल..//अनुकपुर  //कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव हेतु मध्यप्रदेश के विभिन्न जिलों में किए जा रहे प्रयासों एवं स्थिति की मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा समीक्षा की गयी। इस दौरान कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर द्वारा जम्मू में अनूपपुर ज़िले के फँसे श्रमिकों को मदद मुहैया कराने की कार्यवाही की मुख्यमंत्री द्वारा सराहना की गयी। कलेक्टर श्री ठाकुर ने अवगत कराया कि सीमावर्ती ज़िला होने के कारण छत्तीसगढ़ से पलायन कर ज़िले में प्रवेश करने वाले श्रमिकों को ज़िला प्रशासन द्वारा आश्रय प्रदान कर मानक स्वास्थ्य प्रोटोकॉल एवं शासन के निर्देशों के अनुसार कार्यवाही की जा रही है। साथ ही अन्य ज़िलों/ राज्यों में अनूपपुर ज़िले के श्रमिकों/ ज़रूरतमंदो को सम्बंधित प्रशासन से चर्चा कर सहयोग मुहैया कराया जा रहा है। ऐसे व्यक्ति जिन्हें त्वरित सहयोग की आवश्यकता है अथवा किसी गम्भीर समस्या में हैं उन्हें आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 अंतर्गत गठित अनूपपुर आपदा राहत कोष से राशन एवं अन्य जीवनोपयोगी पदार्थों हेतु सहायता मुहैया कराई जा रही है। आपने बताया कि ऐसे सभी पीड़ितों/ बेसहारा एवं ज़रूरतमंद ज़िले के नागरिकों से सम्पर्क स्थापित करने हेतु नोडल अधिकारियों की नियुक्ति की गयी है एवं सतत रूप से आवश्यक निदान की कार्यवाही की जा रही है। श्री ठाकुर ने यह भी बताया कि अनूपपुर राहत कोष में स्थानीय नागरिकों का सतत सहयोग प्राप्त हो रहा है, साथ ही स्थानीय समाजसेवियों द्वारा जनहित के कार्यों में आगे आकर सहयोग प्रदान किया जा रहा है।

Share To:

Post A Comment: