पुणे में कोरोना के तीन मरीज एक साथ हुए स्वस्थ्य,दो अस्पताल से हुए से डिस्चार्ज

कलयुग की कलम 

पुणे की झोली में कोरोना से संबंधित एक बडी खूशखबरी आयी है ।पुणे में एक दम्पति,जो कोरोना के सबसे पहले मरीज थे,आज 14 दिन के बाद पूरी तरह से स्वस्थ्य हो गए हैं ।अस्पताल ने मरीज को डिस्जार्च कर के घर भेजा जा रहा है । कोेरोना के दो मरीज के ठीक होकर,घर जाना,पुणे वासियों के लिए कहीं ना कहीं राहत और बेहद खुशी देने वाली खबर है ।हम तो कहेंगे कि यह देशभर के लिए अत्यंत खुशी का विषय है ।

महाराष्ट्र में कोविड-19 से सबसे पहले संक्रमित पाए गए पुणे के दंपत्ति को अब दो बार हुई जांच में,अब उन्हें संक्रमित नहीं पाया गया है और उन्हें 25 मार्च को अस्पताल से छुट्टी मिल गयी है ।एक स्वास्थ्य अधिकारी ने यह जानकारी दी ।दंपत्ति को यहां नौ मार्च को अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उन्हें पुणे नगरपालिका की एम्बुलेंस से घर ले जाया जा रहा है ।पुणे नगर निकाय के स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि 14 दिन तक अलग रखने के बाद 23 मार्च  को उनके पहले नमूने संक्रमित नहीं पाए गए ।24 मार्च को अगले 24 घंटे में दोबारा नमूने भेजे गए और उसमें भी दंपत्ति संक्रमित नहीं पाए गए ।पूरी तरफ से इस दंपति को स्वस्थ्य पाकर, अस्पताल प्रबंधन ने इन्हें घर जाने की ईजाजत दे दी ।

यह दंपत्ति और उनकी बेटी 40 सदस्यीय पर्यटकों के उस समूह का हिस्सा थे,जो बीते एक मार्च को दुबई से मुंबई लौटा थे ।फिर वे एक कैब से मुंबई से पुणे गए थे ।दंपत्ति के अलावा उनकी बेटी और कैब चालक भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे ।कैब चालक भी अब पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं,उन्हें भी 26 मार्च को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया जाएगा ।स्वस्थ हुए दम्पति की बेटी भी पूरी तरह स्वस्थ होने की राह पर है लेकिन उसे अभी पूर्ण रूपेण ठीक होने में कुछ वक्त लगेंगे ।लेकिन डॉक्टरों की मानें,तो वह लड़की भी खतरे से बाहर है और सौ फीसदी स्वस्थ होने के मुहाने पर है ।

एक साथ दो कोरोना वायरस संक्रमित का पूरी तरह से ठीक हो जाना और दो के ठीक होने की पक्की गारंटी,पूरे देश में नई ऊर्जा भरने के लिए काफी है ।यह तय है कि अगर आप सोसल डिस्टेंस और मेल-जोल से अलग रहकर,घर में साफ-सफाई से रहेंगे,तो आसानी से कोरोना पर जीत हासिल की जा सकती है ।वाकई देश के प्रधानमंत्री ने समय की नजाकत को समझते हुए आगामी 14 अप्रैल तक के लिए पूरे देश को लॉक डाउन कर दिया है ।लोगों के धैर्य और अनुशासन से कोरोना हारेगा और यह देश जीतेगा ।

बिहार से वरिष्ठ सहयोगी मुकेश कुमार सिंह की स्पेशल रिपोर्ट

Share To:

Post A Comment: