सरकार लॉक डाउन बढाये लेकिन भ्रष्टाचार, कालाबाजारी व प्राइस हाइक पर नियंत्रण करते हुए बिछड़े लोगों को परिवार से मिलाए।

  K K K न्यूज रिपोर्टर
       
          नैनी
     सुभाष चंद्र

छोटे व्यापारी, फुटपाथिया दुकानदार, पत्रकार, अधिवक्ता, गरीब सवर्ण व मध्यम वर्ग को भी आर्थिक सहायता दे सरकार।

सरकार तय करे कि लोग भूख से न मरें।

प्रयागराज। एनजीओ परमेंदु वेलफेयर सोसाइटी ने सरकार से मांग किया है कि वह कोरोना मुक्ति हेतु लॉक डाउन बढाये परन्तु वह मानवीय पक्ष का भी ध्यान रखे जिससे देश भ्रष्टाचार मुक्त हो व किसी की मौत भूख व बीमारी से न हो।

जानकारी के अनुसार आज परमेंदु वेलफेयर सोसाइटी के तरफ से संस्थापक प्रबन्धक आर के पाण्डेय एडवोकेट ने सीएम व पीएम को ट्वीट करके मांग किया है कि कोरोना से मुक्ति हेतु सरकार लॉक डाउन बढाये परन्तु वह मानवीय पक्ष का ध्यान रखते हुए भ्रष्टाचार, कालाबाजारी व प्राइस हाइक पर रोक लगाए। सरकार यह सुनिश्चित करे कि सभी कोटेदार, सफाई कर्मचारी व अधिकारी ईमानदारी से कार्य करें व प्रत्येक व्यक्ति को पूरा व निःशुल्क राशन मिले।

अपने विशेष वार्ता में समाजसेवी अधिवक्ता आर के पाण्डेय ने बताया कि वेतन भोगी कर्मचारियों व अधिकारियों को घर बैठे भी वेतन मिलेगा व कागजी गरीब व मजदूर को सरकारी सुविधा मिल जाएगी लेकिन सरकार उन छोटे व्यापारों, फुटपाथिया दुकानदार, पत्रकार, अधिवक्ता,गरीब सवर्ण परिवार व मध्यम वर्ग को भी आर्थिक सहायता उपलब्ध कराए जोकि लॉक डाउन में पूरी तरह बेरोजगार हो चुके हैं। उन्होंने यह भी मांग की है कि अपने परिवार से दूर फंसे व बिछड़े लोगों को उनके घर तक आसानी से पहुंचने में सरकार मदद करे अन्यथा कोरोना के बजाय लोग भय व भूख से मर सकते हैं। सरकार को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि पूरे देश में एक भी व्यक्ति की मौत भूख या बीमारी से न हो।

Share To:

Post A Comment: