गरीबों के हक पर कोटेदारों का डाका

कलयुग की कलम

   संवाददाता

   सुभाष चन्द्र 

निःशुल्क राशन के भी कोटेदार ल रहे कीमत जबकि दाल के दर्शन नहीं

काशीराम में गरीबों से से धन उगाही जारी जबकि दाल हुई लापता।

पूरा फतेहमोहम्मद में राशन बना झूठा आश्वासन।

पीडीए व लोकपुर के कोटे की दुकानें बंद रहीं।

प्रयागराज के नैनी क्षेत्र के कोटेदार अनवरत मनमानी पर उतारू हैं जिससे गरीबों के निःशुल्क राशन पर डाका डालने वाले कोटेदार पूरी दाल ही हजम कर गए हैं।

जानकारी के अनुसार आयुक्त खाद्यान्न व डीएम प्रयागराज के आदेश के विपरीत आज काशीराम आवास में कोटेदार व गरीब मजदूरों में विरोधाभास नजर आया। यहां कोटेदार ने निःशुल्क राशन की बात किया लेकिन गरीबों ने कहा कि उनसे राशन की कीमत ली जा रही है वहीं दाल पूरी तरह गायब रही। पीडीए कालोनी एवं लोकपुर में कोटे की दुकान बंद रहीं जबकि पूरा फतेह मोहम्मद में कोटेदार गायब रहा जबकि लोगों की भीड़ के लिए न तो सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन था व न ही सैनिटाइजर, साबुन या पानी मिला। यहाँ के लोगों ने बताया कि उन्हें अंगूठा लगवाकर भी चार महीने से राशन नही मिल रहा है। आज भी इस दुकान पर राशन का एक दाना नही दिखा जबकि गरीब मजबूर मजदूर सुबह से ही राशन की आशा में बैठे रहे। जब कोटेदार ही गरीबों के हक पर डाका डाल रहे हैं तब सरकारी योजनाओं का असफल होना स्वाभाविक ही है।


Share To:

Post A Comment: