मंडलायुक्त एवं आईजी ने कौशाम्बी पहुंचकर वर्तमान स्थिति का किया निरीक्षण

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
विकास कुमार पटेल

मण्डलायुक्त एवं आईजी ने जनपद कौशाम्बी के ग्राम मलाक पचम्भा पहुँचकर वर्तमान स्थिति का लिया जायजा

लॉकडाउन का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराते हुए आमजनों को आवश्यक वस्तुओं की सुगमता से उपलब्धता सुनिश्चित कराये-मण्डलायुक्त

कोविड-19 के प्रसार को रोकने व जनसामान्य को इसके प्रति जागरूक करने के लिए सम्बन्धित गांवों में लाउडस्पीकर के माध्यम से प्रचार कराने के मण्डलायुक्त ने दिये निर्देश

09 अप्रैल, 2020 प्रयागराज।

मण्डलायुक्त आर रमेश कुमार एवं आईजी  के0पी0 सिंह ने जनपद कौशाम्बी के कढ़ा ब्लाक ग्राम मलाक पचम्भा पहुंचकर कोरोना संक्रमण की स्थिति, लाॅकडाउन व अन्य व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को गाँवों में आने एवं जाने पर पूर्णतः प्रतिबन्ध लगाने एवं गांवों के एक-एक घर एवं एक-एक गली को सेनेटाइज कराये जाने के निर्देश दिये। उन्होनें कोविड-19 का प्रसार रोकने व जनसामान्य से सहयोग करने एवं अपने घर में रहने के लिए लिए सम्बन्धित गांवों में लाउडस्पीकर के माध्यम से प्रचार कराने के निर्देश दिये। उन्होनें लॉकडाउन का कड़ाई से अनुपालन कराये जाने के लिए कहा है।

मण्डलायुक्त ने मुख्य चिकित्साधिकारी को प्रभावित गाँवों के एक-एक व्यक्ति का स्वास्थ्य परीक्षण कराये जाने के लिए कहा है साथ ही साथ जिला पंचायत राज अधिकारी को गांवों में निरन्तर साफ-सफाई कराये जाने के निर्देश दिये। मण्डलायुक्त ने सम्बन्धित गाँवों में खाद्यान्न एंव आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता डोर टू-डोर कराये जाने के लिए सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होने कहा कि ग्रामवासियों को किसी भी प्रकार की असुविधा न होने पाये इसके लिए मुकम्मल व्यवस्था सुनिश्चित की जाय।

आईजी  के0पी0 सिंह ने गाँवों में कानून व्यवस्था की दृष्टि से आवश्यक पुलिस प्रबन्ध किये जाने के निर्देश दिए। उन्होनें कहा कि लाॅकडाउन का पूर्णतः अनुपालन सुनिश्चित किया जाय। इस अवसर पर जिलाधिकारी श्री मनीष कुमार वर्मा ने मण्डलायुक्त को स्थिति से अवगत कराते हुए बताया कि मलाक पचम्भा में अब तक कुल 2 व्यक्ति कोरोना पाजटिव पाय गये है। उन्होंने बताया है कि इसके मददेनजर सतर्कता के तौर पर रामपुर बडनाव एवं उसके आस-पास के लगभग 3 किलो मीटर क्षेत्र में आने वाली ग्राम पंचायतों के मजरों/गांव मलाक पचम्मा मस्जिद पर, दाना जहांगीराबाद, भैरोपुर चन्देलन का पूरा रमई का पूरा, रामपुर बडनावा, ग्राम सिपाह का गजरा, बनगर, सिपाह एवं ग्राम केसारी, गुडियन सहित अन्य गाँवों की सम्पूर्ण सीमा को सील करा दिया गया है। जिलाधिकारी ने बताया कि सील की गयी परिधि के अन्तर्गत आने वाले गांवों के एक एक घर एक गली को सेनेटाइज कराया जा रहा है. साथ ही साथ पूरे गाँव के एक-एक घर के प्रत्येक व्यक्ति का स्वास्थ्य परीक्षण भी कराया जा रहा है। उन्होने बताया कि सील किये गये क्षेत्र में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित किये जाने हेतु सभी आवश्यक व्यवस्थाए सुनिश्चित कर ली गयी है। उन्होंने बताया कि सील किये गये क्षेत्र में किसी भी व्यक्ति को बाहर जाने या वहां पर किसी बाहरी व्यक्ति के आने पर पूर्णतः प्रतिबन्ध लगा दिया गया है। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक श्री अभिनन्दन, अपर आयुक्त, उप जिलाधिकारी सिराथू  राजेश कमारावास्तव, मुख्य चिकित्साधिकारी श्री पीएन चतुर्वेदी तथा अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

जनपद के समस्त ग्राम प्रधान सी0एम0 कोविड केयर फण्ड में स्वेच्छा से सहयोग के रूप में देंगे अपने एक माह का मानदेय

जिला पंचायतराज अधिकारी, प्रयागराज रेनू श्रीवास्तव ने बताया है कि वर्तमान में देश और प्रदेश में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है, जिसके रोकथाम हेतु प्रदेश सरकार को विभाग की ओर से समस्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा आर्थिक सहयोग किया गया है।

पंचायतीराज परिवार के अभिन्न अंग होने के नाते प्रधान संघ के प्रदेश महा सचिव द्वारा अवगत कराया गया है कि कोविड-19 जैसी महामारी के दृष्टिगत जनपद प्रयागराज के समस्त ग्राम प्रधानों द्वारा स्वेच्छा से अपने एक माह के मानदेय को सहयोग के रूप में सी0एम0 कोविड केयर फण्ड में दिये जाने का निर्णय लिया गया है। यह एक सराहनीय कदम होगा कि इस राष्ट्रीय आपदा के समय जनमानस के हित में लिया गया निर्णय है। तदा्नुसार यदि किसी ग्राम प्रधान को एक माह का मानदेय सहयोग के रूप में देने में असहमत हो तो कृपया दूरभाष के माध्यम से कार्यालय जिला पंचायतराज अधिकारी के  पर सम्पर्क करें।

05 खण्ड स्नातक एवं 06 खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्रों की निर्वाचन प्रकिया परिस्थितियों की समीक्षा के बाद पश्चातवर्ती तिथि पर की जायेगी प्रारम्भ

उत्तर प्रदेश विधान परिषद के 05 खण्ड स्नातक एवं 06 खण्ड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्रों से निर्वाचित सदस्यों का कार्यकाल दिनांक 06.05.2020 को समाप्त हो रहा है। लोक प्रतिनिधित्व अधिनियक के प्राविधानों के अंतर्गत निर्वाचन की संविद प्रकिया को पूर्ण करने के लिए सार्वजनिक अवकाशों के अधीन लगभग 04 सप्ताह का समय आवश्यक है। वर्तमान परिस्थितियों, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, गृह मत्रालय, भारत सरकार द्वारा कोविड-19 के प्रसार को रोकने हेतु जारी निर्देशों तथा दिनांक 25.03.2020 से लागू 03 सप्ताह के लॉक-डाउन, लोक सुरक्षा एवं लोक स्वास्थ्य पर जोखिम से बचने के लिए लगाये गये प्रतिबंधों के दष्टिगत भारत निर्वाचन आयोग का यह सुविचारित मत है कि उपरोक्त परिस्थितियों में उक्त निर्वाचन की प्रकिया को निर्धारित समय में पूरा करना सम्भव नहीं है।

अतः भारत निर्वाचन आयोग द्वारा संविधान के अनुच्छेद 324, सहपठित लोक प्रतिनिधित्व आधानयम, 1951 की धारा-16 के अंतर्गत प्रदत्त अधिकारों का प्रयोग करते हये आदेश दिये गये है कि उपरोक्त निवाचन क्षेत्रों पर निर्वाचन प्रकिया परिस्थितियों की समीक्षा के बाद, पश्चातवर्ती तिथि पर प्रारम्भ की जायेगी।

यह जानकारी संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी अवनीश सक्सेना ने दी है।

Share To:

Post A Comment: