हृदय नगरी-हरदा के विशाल हृयद दानदाता

कलयुग की कलम प्रेस 

हरदा शहर की जनता ने फिर एक बार साबित कर दिया हर मुश्किल की घड़ी में हम कांधे से कांधा मिलाकर खड़े है

लॉक डॉउन पीड़ित हरदा सहायता समूह का गठन 24 मार्च को उस समय हुआ जब अचानक लॉक डॉउन से पूरा देश थम सा गया,और समाज में एक चिंता जाग्रत हुई उस वर्ग के लिए जो बाहर से आकर शहर में फस गए,एवं रोज़ कमाने रोज़ खाने वाले लोग है लेकिन ईश्वर अगर कोई समस्या खड़ी करता है तो निवारण भी वही देता है

अकेला ही चला था जानिब-ए-मंज़िल मगर , लोग साथ आते गए और कारवाँ बनता गया

हरदा मध्यप्रदेश के काशिफ खान ने पहल की,सुनते ही सभी मित्रगण संदेश अग्रवाल,हिमेश अग्रवाल,यश हेडा,नारायण सोमानी,गौरव भावसार,हर्षित अग्रवाल,अजय सराफ,अजय पालीवाल,पवन सिसोदिया,वेंकटेश स्वामी,अभिषेक मालवीय,शांति जैसानी और नगीन मीणा ने एक स्वर में समर्थन दिया और तय किया भोजन वितरण करना ही है

बात आदरणीय मामा जी आहद खान,हेमंत टाले जी,आदित्य गार्गव जी से की गई, जिनके साथ के बिना यह सब असंभव था,वह पूरे तन मन और धन से काशिफ जी को आशीर्वाद और मार्गदर्शन के साथ,इस नेक कार्य में अपने सहयोग की आहुति देने मैदान में उतर गए

इस पुनीत कार्य में साथ आए गगन जी अग्रवाल,अब्दुल सलाम जी,शैलेन्द्र जोशी जी जैसे परोपकारी

सिंधी समाज,भाई अब्दुल समद जी एवम मित्र मंडली ने भी आपसी सहमति से अलग अलग क्षेत्रों में रात्रि भोज का प्रबंध शुरू किया

यह सभी मित्र अलग अलग विचारधारा,राजनीतिक दल,समाज और वर्ग से हैं-जो नेक काम के लिए एक हो गए

सब ने अपने स्तर पे मेहनत की और 190 पार्सल से शुरू यह पुनीत कार्य आज 3200 पार्सल प्रति दिन पे पहुंच गया है

इस छोटी सी मुहीम को सब ने मिलकर एक आंदोलन में बदल दिया

आज दिनांक तक तकरीबन 35000 भोजन के पार्सल वितरित किए गए

शहर में किसी को भूखा नहीं सोने दिया

मन हृदय आत्मा तृप्त है

जय भारत






Share To:

Post A Comment: