सरकार  संसद में पास करें पंचायतों में हॉस्पिटल बनाए जाने का कानून... शिव सिंह

पीएम साहब कोरोना से लड़ाई नहीं लड़ी जाती दवाई की जाती है.... बृहस्पति सिंह

कलयुग की कलम प्रेस  

 7 अप्रैल 2020... विश्व महामारी का रूप लिए देश में फैली कोरोना महामारी व भविष्य में ऐसी  महामारियो के फैलने की आशंका पर चिंता व्यक्त करते हुए मीसाबंदी बृहस्पति सिंह एवं जनता दल सेक्यूलर के प्रदेश अध्यक्ष शिव सिंह एडवोकेट ने कहां की केंद्र सरकार को इस महामारी के प्रकोप को देखते हुए अभी से स्वास्थ्य क्षेत्र में कड़े कदम उठाने चाहिए प्रधानमंत्री जी आपका ध्यान इस ओर आकृष्ट कराया जा रहा है कि आपके द्वारा बार-बार मीडिया के माध्यम से यह कहा जा रहा है कि हम कोरोना से  जंग लगातार लड़ रहे हैं यह लड़ाई हम जीतेंगे जरूर प्रधानमंत्री जी बीमारी से लड़ाई नहीं लड़ी जाती है लड़ाई दुश्मन से लड़ी जाती है कोरोना जैसे गंभीर महामारी की दवाई की जाती है लेकिन आपने एक बार भी नहीं कहा कि हम दवाई से कोरोना की जंग जीतेंगे जरूर प्रधानमंत्री  जी अभी तक सरकार के खजाने को हथियार बनाने हवाई यात्रा चुनाव  रैलियां विदेशी  राजनेताओं को खुश करने सरकार बनाने व  बिगाड़ने में  मठ मंदिर गेट स्टेचू चबूतरा बनाने एवं बाबाओं को खुश करने में पानी की तरह बहाया जाता रहा जिसका परिणाम यह हुआ कि देश की सरकार का खजाना स्वास्थ्य शिक्षा व अन्य महत्वपूर्ण योजनाओं के क्षेत्र में खाली पड़ा रहा जिसका खामियाजा यह हुआ कि आज इतनी बड़ी महामारी में हमारे देश के पास इलाज तो दूर बचाव के उपकरण तक नहीं हैं जिसका खामियाजा यह हुआ कि आज चिकित्सा सेवा में लगे बड़ी संख्या में डॉक्टर नर्सेस कोरोना पॉजिटिव है  आज देश में सीबीआई द्वारा जांच से यह ज्ञात हुआ कि देश के अंदर 30 से 40 लाख एनजीओ हैं  जिनके माध्यम से व्यापक भ्रष्टाचार सरकारें कर रही हैं आंकड़े देखा जाए तो एन जी ओ की  अपेक्षा स्वास्थ्य शिक्षा एवं पुलिस जैसी अहम संस्थाएं काफी कम संख्या में हैं और आज यही संस्थाएं इस महामारी के दौर में अपनी अग्रणी भूमिका निभा रही हैं प्रधानमंत्री जी और भी आपका ध्यान आकृष्ट कराया जा रहा है कि  कोरोना महामारी ने बता दिया कि यदि  ऐसी ही महामारिया फैलती रही तो मंदिर मस्जिद गिरजाघर गुरुद्वारा मैं इलाज नहीं होगा इलाज होगा तो सिर्फ हॉस्पिटलों में तो प्रधानमंत्री जी इस महामारी संकट के दौरान जो आपकी कैबिनेट ने जनप्रतिनिधियों की वेतन कटौती एवं जनता निधि के निलंबन का फैसला लिया है वह स्वागत योग्य है तथा यह भी हमारे संज्ञान में है कि विश्व बैंक एवं अन्य देशों तथा देश के जनप्रतिनिधियों उद्योगपतियों समाजसेवी संस्थाओं कलाकारों क्रिकेटरों पूजी पतियों व अन्य ने प्रधानमंत्री राहत कोष में जो राशि का सहयोग किए हैं उससे अब देश का खजाना  आर्थिक तौर पर मजबूत हो गया है इसलिए आपकी सरकार को स्वास्थ्य शिक्षा के क्षेत्र में मजबूत कदम उठाने चाहिए हम आपसे देश वासियों की तरफ से यह मांग कर रहे हैं कि विश्व स्वास्थ्य संगठन मानव अधिकार आयोग राष्ट्र संघ  अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के प्रमुखों एवं देश की प्रमुख संस्थाओं विपक्षी दलों समाजसेवी संगठनों के साथ व्यापक रणनीति तैयार कर मंत्रिमंडल में भारत की प्रत्येक ग्राम पंचायतों के लिए हॉस्पिटल बनाए जाने एवं साथ साथ  शिक्षा को बढ़ावा दिए जाने का प्रस्ताव पास किया जाना चाहिए  और बाद में सड़क व अन्य क्षेत्रों  की बात करनी चाहिए तथा यह भी मांग करते हैं कि यदि कोई समाजसेवी या समाज सेवी संगठन हॉस्पिटल  खोलना चाहते हैं तो उन्हें तत्काल सरकार को  अनुमति देनी चाहिए एवं उन्हें आर्थिक संकट ना आए इसलिए बैंकों को निर्देशित करना चाहिए कि उनकी मदद करें जिससे देश को गंभीर बीमारियों से बचाया जा सके l 

                     
               शिव सिंह एडवोकेट
 प्रदेश अध्यक्ष जनता दल  सेक्यूलर मध्य प्रदेश
Share To:

Post A Comment: