आंगनबाडी कार्यकर्ता व सहायिका द्वारा ग्राम पचपेड़ी में बांटा जा रहा पोषण आहार

कलयुग की कलम ग्रामीण रिपोर्टर सोनू त्रिपाठी

उमरियापान/पचपेड़ी - लॉकडाउन में न सिर्फ जनमानस बल्कि नौनिहालों का भी हाल बेहाल है। जिले में 20 हजार के ऊपर बच्चे कुपोषित की जद में है इसमें लगभग 18 हजार बच्चे कम वजन के और दो हजार से अधिक वजन गंभीर कुपोषण के शिकार हैं। लॉकडाउन में इनके निवाले पर भी संकट मंडरा रहा है। इसी को देखते हुए ग्राम पचपेड़ी मैं कार्यकर्ता मधु मिश्रा द्वारा पूरे गांव में खिचड़ी व गुड का वितरण किया जा रहा है। जिससे कुपोषित बच्चों को खासी मदद मिल रही है वही मधु मिश्रा ने बताया है की लॉकडाउन के बाद से सारे गांव में इसका वितरण किया जा रहा है। और आगे भी जब तक शासन का आदेश मिलेगा किया जाता रहेगा।



Share To:

Post A Comment: