चलिए फ़राज़ ज़ैदी और रहमान को सैल्यूट करिए चलिए चलिए

आइए हाथ बढ़ाइए जीवन देने वाले की ओर। करिए वैमनस्यता से दूरी। सकारात्मक बनिए। इसलिए भी कि आप खाई खोदी रहे हैं, और यह कौम जीवन देने में जुटी हुई है। कुछ भी बकने से पहले याद रखिए किसी भी कौम में सिर्फ गंदगी नहीं हो सकती। 

इलाहाबाद के फ़राज़ ज़ैदी विजिटर इंस्टीट्यूट फिलाडेल्फिया में काम करते हैं।  उन्होंने कोरोना से फाइट की वैक्सीन को इजाद किया है। जिसका मनुष्य पर टेस्ट 6 अप्रैल को हुआ,और वह सफल रहा। दूसरी ओर नदीम रहमान और उनकी टीम ने मिलकर कोविड19 से लड़ने के लिए सबसे सस्ती टेस्टिंग किट तैयार किया है। जिसकी कीमत है मात्र 500 रुपए। 4500 नहीं, समझे आप लोग। बल्कि यह  सस्ती किट सिर्फ 15 मिनट में तैयार हुई  है। रहमान का  यह भी कहना है कि जैसे जैसे रुपए,डॉलर की कीमत में सुधार होगा, वैसे वैसे यह किड और सस्ती होगी। क्योंकि बहुत से सामान बाहर से भी मंगवाने होते हैं। आईसीएमआर ( इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च) ने इसे हरी झंडी दिखा दी है। साथ ही यूपी सरकार ने इसे खरीदना शुरू कर दिया है। रहमान की कंपनी का नाम है-न्यूलाईफ।

Share To:

Post A Comment: