आपदा की घड़ी में देवदूत बन रहे स्वयं सेवक घर जा जाकर भूखों को दे रहे भोजन

कलयुग की कलम 

सिराली पूरी दुनिया में जहां एक और कोरोना महामारी ने तबाही मचा रखी है जिससे लाखों लाख लोगों की मौत हो रही है  जिसके कारण दुनिया के कई  देशों ने लाक डाउन कर रखा है ताकि व्यक्ति से व्यक्ति का संपर्क न हो सके और इस कोरोना महामारी से निपटा जा सके इसी कारण पूरे भारत में भी 21 दिन के लाक डाउन की वजह से तिहाडी मजदूर एवं निशक्त लोग जिनकी कोई देखरेख करने वाला एवं उन्हें भोजन पहुंचाने वाला नहीं है ऐसे लोग की मुसीबत के समय उन्हें कौन भोजन पहुंचाएगा शासन की क्या व्यवस्था रहेगी शासन कब भिजवाएगा शासन इतने लोगों तक भोजन कैसे पहुंचाएगा इन सारे विकल्पों पर विराम लगते हुए समाज क्षेत्र में चलने वाले सामाजिक संगठन सामने आए हैं इसी कड़ी में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक भूखों को भोजन पहुंचाने के लिए घर-घर जाकर दस्तक दे रहे हैं जो जरूरतमंदों को इस दुख की घड़ी में भोजन मिल सके इस आपदा की घड़ी में स्वयंसेवकों ने अलग-अलग टोली बनाकर हर एक मोहल्ले हर एक गांव हारे घर तक पहुंचने का संकल्प लिया है लगभग इस कार्य में 25o संघ के स्यंव सेवक इस सेवा कार्य में घर घर पहुंच रहे हैं

कहां कहां पहुंचा रहे हैं भोजन संघ के स्वयंसेवक एवं समाज में चलने वाले अन्य संगठन साईं सेवा समिति गायत्री परिवार आर्ट आफ लिविंग सेवा भारती विद्या भारती  विश्व हिंदू परिषद बजरंग दल  के माध्यम से नगर वासियों ने खूब जनधन का सहयोग कर रहे हैं स्वयंसेवकों द्वारा नगर सिराली एवं आसपास के ग्राम वनवासी क्षेत्र जैसे दूंगालिया भूराली बारानाला निमढाना पटालडा साबरी झीरपी बांसीगढ़ घोड़ा पाठ कोतमी सुंदर पानी भीमपुरा रिछारिया सहित लगभग  3 दर्जन ग्रामों में पहुंचकर जरूरतमंदों को भोजन सामग्री वितरण की गई




Share To:

Post A Comment: