लॉकडाउन का पालन करने पुलिस ने किया हाथ जोड़कर निवेदन,कहा बंद कर लो दुकानें

दुकान खोलकर बैठे और बेवजह घूमने वालों के लिए निकाला गांधीगिरी का नया तरीका।

कलयुग की कलम न्यूज एडिटर महेंद्र सिंह पटेल

उमरियापान:- देशभर में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए लॉकडाउन की स्थिति है। बावजूद लोग लॉक डाउन का उल्लंघन कर सड़कों पर उतर रहे हैं। कुछ दुकानदार अपनी दुकानों और होटलों को खोलकर बैठ रहे हैं। ऐसे में एक ही जगह पर बड़ी संख्या में लोगों की भीड़ जमा होती है।तब सही व्यवस्था बनाने के लिए पुलिस द्वारा लोगों को डराया भी जाता है तो कहीं पर पुलिस गांधीगिरी का भी प्रयोग कर रही है। सोमवार-मंगलवार सुबह ऐसा ही एक नजारा उमरियापान में देखने को मिला है। सोमवार और मंगलवार को उमरियापान पुलिस ने बेवजह दुकान खोलकर बैठे व बगैर किसी काम के सड़कों पर घूमने वालों के लिए एक नया तरीका निकालकर उनसे घर पर रहने की अपील की है।उमरियापान थाना प्रभारी गोविंद सुरैया सहित अन्य पुलिस कर्मियों ने सोमवार और मंगलवार की सुबह झंडा चौक के कपड़े की दुकान खोलकर बैठे चंद्रभूषण परौहा और होटल चलाने वाले सुखदेव चौरसिया सहित झंडा चौक आने-जाने वालों को रोककर उनसे हाथ जोड़कर प्रार्थना करते हुए कहा कि वे लोग अपनी दुकानें बंद कर दें।बेवजह नही घूमते हुए घर पर ही रहे, बिना काम के घर से बाहर ना निकले। इतना ही नही थाना प्रभारी ने दुकानदारों से कहा कि कहो तो पैर भी छू लें लेकिन दुकानें बंद कर दो। नही तो अब निश्चित ही कार्रवाई होगी।थाना प्रभारी ने जैसे ही दुकानदारों के समक्ष हाथ जोड़कर दुकानों को बंद कराया, इससे वहां पर उपस्थित लोगों को शर्मिंदगी का अहसास हुआ।वे लोग अपने घरों की तरफ चले गए,लेकिन पुलिस के जाते ही स्थिति जस की तस हो गई। पुलिस द्वारा इस प्रकार हाथ जोड़कर दुकानदारों से जब निवेदन किया गया तो इसकी खबर क्षेत्र में चारों ओर फैल गई और लोगों को शर्मिंदगी होने लगी।इस वक्त लोगों की जुबान पर एक ही बात आ रही थी ऐसे दुकानदारों को शर्म आना चाहिए जो कि प्रतिबंध होने के बाद भी दुकान खोलकर बैठे हैं। झंडा चौक से अँधेली बाग तक चले इस अभियान में थाना प्रभारी गोविंद सुरैया, एएसआई मान सिंह मार्को,आरक्षक रत्नेश दुबे, जगन्नाथ सिंह,अवध दुबे,भागसिंह,संतोष दुबे सहित अन्य पुलिस कर्मी शामिल रहे।


Share To:

Post A Comment: