विज्ञान की कसौटी पर सही उतरे.. मास्टर बुद्धसेन पटेल

कलयुग की कलम 

विश्व सहित भारत में फैली कोरोना महामारी को लेकर राष्ट्रीय मतदाता जागृति मंच के प्रदेश अध्यक्ष मास्टर बुद्धसेन पटेल ने कहा कि  आज देशवासियों को विज्ञान की कसौटी पर उतरने की जरूरत है  क्योंकि  महामारी से

मंदिर-मस्जिद के पट बंद हो गए, अल्लाह-ईश्वर ने मॉस्क पहन लिया। जब उनके भक्तों पर विपदा आई। दुनियां में हाहाकार मचा है और वेटिकन सिटी के संत भी अदृश्य हैं। ऐसे में सोचा और विचारा तो पाया वास्तव में यह देश-दुनियां बुद्ध की है। जिस इकलौते महामानव ने कहा था- जो बात वैज्ञानिक दृष्टिकोण से सही न हो और विज्ञान की कसौटी पर सही न उतरे उसे मत मानो, चाहे बुद्ध ही ने क्यों न कहा हो।  बात सौ फीसदी सही है, आज दुनियां भगवान को नहीं विज्ञान के चमत्कार को निहार रही है कि शायद वैज्ञानिक कोई टीका कोरोना को मारने का बना ही लें रही बात आज कोरोना महामारी के चलते देश के मुखिया के इस एलान की आज देशवासी अपने अपने घरों में लाइट बंद कर मोबाइल की फ्लैश लाइट टॉर्च दीपक मोमबत्ती जलाएं तो इसका कोई वैज्ञानिक महत्व देश के विशेषज्ञों ने कोरोना महामारी रोकने के संबंध में नहीं बताया है इसलिए मैं ऐसी घोषणा का पालन न करते हुए सभी को अपने अपने घरों में सुरक्षित रहने की अपील करता हूं l

                             
                मास्टर बुद्धसेन पटेल
      प्रदेश अध्यक्ष राष्ट्रीय मतदाता
        जागृति मंच मध्य प्रदेश
Share To:

Post A Comment: