रीवा सतना को रेड जोन घोषित कराने सरकार की बड़ी साजिश.. शिव सिंह

कलयुग की कलम प्रेस 

13 अप्रैल 2020.. जनता दल सेक्युलर के प्रदेशाध्यक्ष शिव सिंह एडवोकेट समाजसेवी ज्ञानेंद्र गौतम ने इंदौर से कोरोना पॉजिटिव दो कैदियों को सतना जेल शिफ्ट करने एवं जांच उपरांत उन्हें  रीवा मेडिकल कॉलेज भेजने मैं मध्य प्रदेश सरकार के मुखिया शिवराज सिंह एवं रीवा सतना के भाजपा विधायकों की बड़ी साजिश दिखाई दे रही हैं  क्योंकि मध्य प्रदेश के अंदर अभी  विंध्य का इलाका कोरोना मुक्त था लोग अमन चैन से  लॉकडाउन का पालन करते हुए कोरोना महामारी से निपटने के लिए संघर्षरत थे  लेकिन मुख्यमंत्री व विधायकों ने जिस तरह से मिलकर  रीवा सतना को रेड जोन घोषित कराने के लिए व करोड़ों का कोरोना बजट घोषित कराए जाने के लिए यह षड्यंत्र रचा है जिसके चलते नेताओं  को तो भ्रष्टाचार करने के लिए सरकार का बजट आ जाएगा लेकिन ऐसे घटनाक्रम से समूचे  विंध्य को दहशत में जीने के लिए मजबूर होना पड़ा जिसकी जिम्मेदार पूरी तरह से मध्य प्रदेश सरकार है और इस घटनाक्रम में जिस तरह से कलेक्टर इंदौर कलेक्टर सतना कलेक्टर रीवा ने सरकार के दबाव में आकर   विंध्य के लोगों को दहशत में जीने के लिए मजबूर किया है वह भी गंभीर अपराध की श्रेणी में आता है  रीवा के चिकित्सकों पुलिसकर्मियों स्वास्थ्य कर्मियों सफाई कर्मियों एवं समस्त रीवा वासियों को बधाई देता हूं कि जिस तरह से उन्होंने स्वयं को सुरक्षित रख सरकार के इस गलत निर्णय का एक राय होकर जो पुरजोर विरोध किया है वह काबिले तारीफ है एवं स्वागत योग्य है लेकिन कहीं ना कहीं रीवा सतना सहित विंध्य का इलाका दहशत में जीने को मजबूर हो रहा है  श्री सिंह ने सरकार व विधायकों पर आरोप लगाते हुए कहा कि जिस तरह से मरीजों को लाकर भ्रमण कराया गया जेल एवं हॉस्पिटल में रोका गया  यदि कोई करोना पॉजिटिव मरीज सामने आता है तो सरकार के मुखिया एवं रीवा  सतना के बीजेपी विधायक व तीनों कलेक्टर एवं पीएस जिम्मेदार होंगे   तथा श्री सिंह ने यह भी कहा कि जो रीवा बासी लॉक डाउन का पालन करते हुए दोनों कोरोना पॉजिटिव कैदियों को रीवा से हटाए जाने ज्ञापन के माध्यम से मांग कर रहे थे उनके विरुद्ध पंजीबद्ध मामले शीघ्र वापस लिए जाएं l

                     

              शिव सिंह एडवोकेट

प्रदेश अध्यक्ष जनता दल सेक्युलर मध्य प्रदेश

Share To:

Post A Comment: