राजद के प्रदेश महासचिव विजय सम्राट ने आंगनवाड़ी सेविका द्वारा आठ माह से मानदेय भुगतान नहीं होने पर मुख्यमंत्री के लिखा पत्र।

कलयुग की कलम 

शेखपुरा जिला में कोरोना वायरस को खतरे की आशंका के बीच चल रही सरकारी और प्रशासनिक तैयारी के बीच आंगनवाड़ी सेविकाओं के माध्यम से सर्वे कराया जा रहा है। एवं दूसरी तरफ स्वास्थ्य कर्मी भी अपने काम पर डटे हुए हैं गौरतलब है राजद के प्रदेश महासचिव विजय सम्राट ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर करोना जैसी महामारी से लड़ रहे हैं हमारे स्वास्थ्य कर्मियों को बिहार सरकार द्वारा एक माह का अतिरिक्त वेतन देकर एक अच्छी पहल की है जो काफी सराहनीय कदम है। उन्होंने कहा कि वही करोना संक्रमण पर लगाम लगाने हेतु आंगनबाड़ी सेविकाओं के माध्यम से सर्वे कराया जा रहा है। जो घर-घर जाकर घरों में रह रहे लोगों से उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी एकत्रित कर रही है जो जोखिम भरा कार्य है इसे बेखुबी आंगनबाड़ी सेबका दीदी द्वारा दिए गए निर्देश का पालन कर रही है। राजद के प्रदेश महासचिव विजय सम्राट ने बताया कि आंगनवाड़ी सेविका द्वारा अपना दुख ब्याह की है। इस आपदा में उनके घर परिवार के देखते हुए इस विकट के घड़ी में उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य बस उनके द्वारा ज्ञात हुआ कि उन्हें तकरीबन आठ माह से मानदेय भुगतान नहीं किया गया है जो कि काफी निंदनीय है। इस आपदा घड़ी में राजद के वरिष्ठ नेता विजय सम्राट ने अपने लेटर पैड पर पत्र भेज कर मुख्यमंत्री बिहार सरकार से  आगरा किया आंगनबाड़ी सेविकाओं को उनका अपना बकाया मानदेय अभिलंब भुगतान करने के लिए अपील की एवं राजद के प्रदेश महासचिव बिजय सम्राट ने कहां की कोरोना वायरस बचने के लिए लॉक डाउन का पालन करते हुए सभी को घरों में ही रहने की सलाह दी लोगों ने परिवार लोगों से बाहर से आए लोगों की सूचना पर प्रशासन को उपलब्ध कराने की अपील की है ताकि प्रशासन ऐसे लोगों को स्वास्थ्य की जांच करा सके।


Share To:

Post A Comment: