वर्तमान में, हमारा देश COVID-19 संकट से जूझ रहा है जिसने दुनिया भर के कई देशों को प्रभावित किया है और WHO द्वारा महामारी के रूप में घोषित किया गया है। वायरस द्वारा फैलाई गई बीमारी के प्रसार को रोकने के लिए, केंद्र और राज्य सरकार ने विभिन्न उपायों को लागू किया है, जिसमे नवीनतम देश भर में 21 दिनों के लिए 25 मार्च 2020 से  पूर्ण लॉकडाउन है ।

अपनी 1.3 बिलियन आबादी वाले भारत में COVID 19 का मुकाबला करना एक बड़ी चुनौती है। सरकार ने कई उपायों की शुरुआत की है, जिसमें 1.7 लाख करोड़ रुपये के विशेष वित्तीय पैकेज की घोषणा करना शामिल है, यह प्रत्येक भारतीय नागरिक की जिम्मेदारी है कि वह सरकार के निर्देशों का पालन करे और संकट की स्थिति को कम करने में अपना योगदान दे। ।

IOC / BPC / HPC जैसी तेल विपणन कंपनियां भारत के लगभग 32 करोड़ घरों में आवश्यक सेवाओं यानी LPG की डिलीवरी सुनिश्चित कर रही हैं। हम अपने उपभोक्ताओं को आश्वस्त करना चाहते हैं कि घरेलु रसोई गैस की कोई कमी नहीं है और हमारे सभी संयंत्र और वितरक नेटवर्क यह सुनिश्चित करने के लिए अथक रूप से काम कर रहे हैं कि सिलेंडर घरों तक पहुंचाए जाएं ताकि वे अपने घरों में सुरक्षित रहें।

हम अपने उपभोक्ताओं को एसएमएस संदेश, सोशल मीडिया आदि के माध्यम से बता रहे हैं कि उपभोक्ताओं की सुरक्षा हमारी प्रमुख चिंता है, उन्हें घर पर रहने की आवश्यकता है और हम उनके घर पर सिलेंडर वितरित करेंगे। कैश हैंडलिंग से बचने के लिए उन्हें ऑनलाइन बुकिंग और भुगतान करने की सलाह दी जाती है।

एलपीजी को लॉकडाउन की स्थिति से छूट दी गई है क्योंकि यह आवश्यक वस्तु के तहत आता है। हमारे डिस्ट्रीब्यूटरशिप स्टाफ, गोडाउन कीपर, मैकेनिक और डिलीवरी बॉय इस संकट काल के दौरान पूरी तत्परता से कार्य कर रहे हैं ताकि इस लॉक डाउन अवधि और उसके बाद भी  सभी ग्राहकों को निर्बाध एलपीजी सिलेंडर आपूर्ति बनाई रखी जा सके।

चूंकि COVID-19 का खतरा हमारे वितरक, LPG संयंत्रों में ट्रांसपोर्टरों और ठेकेदारों के सभी कर्मचारियों पर लागू है, इसलिए COVID-19  के कारण हमारे अनुष्ठानों में कार्यरत सभी कर्मचारियों  की जीवन सुरक्षा के लिए 5,00,000 / - की पूर्व-अनुग्रह राशि का भुगतान करने का निर्णय लिया गया है जो कि मृतक कर्मचारी के पति/पत्नी अथवा सगे संबंधी को दी जाएगी ।

COVID-19  की इस चुनौतीपूर्ण अवधि के दौरान, भारत सरकार ने अप्रैल से जून 2020 तक सभी उज्ज्वला उपभोक्ताओं के लिए मुफ्त रसोई गैस की घोषणा की है। इन रिफिलों की लागत उज्ज्वला लाभार्थियों के बैंक खाते में अग्रिम रूप से हस्तांतरित की जाएगी ताकि वे गैस सिलेंडर खरीदने के लिए इस राशि का उपयोग कर सकें|  इस योजना के तहत कटनी जिले के 1,56,562 उज्ज्वला उपभोक्ताओं को लाभ मिलेगा ।

आइए हम COVID 19 के खिलाफ लड़ने के राष्ट्रीय अभियान में शामिल हों और सामाजिक रूप से  गरीबों और जरूरतमंदों की मदद करें और अपना योगदान दें। आइए हम समय-समय पर सरकार द्वारा दिए गए COVID-19 के सभी दिशानिर्देशों का पालन करने की शपथ लें और यह सुनिश्चित करें कि अन्य भी ऐसा ही करें। 

घर पर रहें, सुरक्षित रहें ।

डिस्ट्रिक्ट नोडल ऑफिसर, कटनी

स्वाती अग्रहरी

Share To:

Post A Comment: