“भ्रष्टाचार के विरुद्ध कोरोना पॉज़िटिव सिद्ध हुआ”

“दस सालों में पानी का क्रत्रिम संकट पैदा करके 250 करोड़ से ज़्यादा का भ्रष्टाचार “

कलयुग की कलम 

म.प्र. कॉंग्रेस कमेटी के प्रदेशसचिव राकेश सिंह यादव ने बताया की कोरोना संक्रमण के कारण पच्चीस करोड़ से ज़्यादा की राशि भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ने से बच गयी।

प्रतिवर्ष निगम प्रशासन के अधिकारियों एंव पार्षदों की आपसी सहमति से 15 फ़रवरी से लेकर 15 जून तक प्रतिवर्ष पानी के टेंकर चलाने के नाम से पच्चीस करोड़ रुपये खर्च किये जाते हैं लेकिन कोरोना संक्रमण के कारण आज मई माह आ गया हैं लेकिन इन्दौर शहर में कहीं पानी की दिक़्क़त नहीं हो रही हैं न ही पानी की कमी हैं।

इससे यह सिद्ध होता हैं की सालों से भरपूर पानी होने के बाद भी फ़रवरी से जून तक पानी का नक़ली संकट पैदा करके अधिकारियों एंव पार्षदों द्वारा करोड़ों के वारे न्यारे किये जाते हैं।लेकिन आज कोरोना ने पानी के टेंकरो के खेल की पोल खोल कर रख दी हैं।अगर पिछले 10 सालों में पानी के टेंकरो के नाम पर भ्रष्टाचार की लूट का आँकड़ा देखें तो यह 250 करोड़ से ज़्यादा होता हैं।यह सारा घोटाला भाजपा की परिषद में ही हुआ हैं ।आज इन्दौर में मई महीने में भी व्यवस्थित पानी का वितरण हैं तो कमी नहीं हो रही हैं वरना निगम के अफ़सर और पार्षदों द्वारा फ़रवरी से ही पानी की कमी को लेकर टेंकर चलाने हेतु हाहाकार मचा दिया जाता हैं।इससे यह भी सिद्ध होता हैं की भ्रष्ट अधिकारी और पार्षद मिलकर पानी के वितरण प्रणाली को फ़रवरी माह में बिगाड़ देते हैं जिससे क्रत्रिम जलसंकट जानबूझकर बनाया जाता हैं।इस बनाये गये जलसंकट की आड़ में पार्षद और अधिकारियों की गेंग अपने अपने टेंकर पानी सप्लाई के लिए लगा देते हैं।निगम से पानी के टेंकर का भुगतान लेते हैं वहीं दुसरी और यह पानी के टेंकर होटल वालों को पैसों में बेचकर डबल कमाई करते हैं।चोखा धंधा हैं जनता के टेक्स के पैसों से हर साल करोड़ों कमाने का।लेकिन कोरोना ने इस बार इस खेल का भंडाफोड़ कर दिया।

म.प्र. कॉंग्रेस कमेटी के प्रदेशसचिव राकेश सिंह यादव ने मॉंग की हैं की इन्दौर में पानी वितरण बिगाड़ कर क्रत्रिम संकट बनाकर जनता का करोड़ों रूपये लूटने वाले निगम अधिकारियों एंव पार्षदों के ख़िलाफ़ जॉंच के लिए माननीय उच्च न्यायालय के चीफ़ जस्टिस के यहॉं पत्र याचिका दाखिल की गई हैं।जिससे पिछले दस सालों के भ्रष्टाचार की जॉंच रिटायर्ड जस्टिस की अध्यक्षता में जॉंच आयोग बनाकर निष्पक्ष जॉंच  हो सके यह मॉंग पत्र याचिका में की गई हैं।


राकेश सिंह यादव
प्रदेशसचिव
म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी
भोपाल
Share To:

Post A Comment: