पूर्ण शराबबंदी के लिए अनूठा डिजिटल प्रदर्शन

घरों से पोस्टर दिखाकर किया प्रदर्शन एक साथ किया सोशल मीडिया में शेयर

संस्था नवसृजन मंच की पहल पर पूरे प्रदेश में हुआ प्रदर्शन

समाजिक संस्था नवसृजन मंच द्वारा  प्रदेश में शराब बंदी को लेकर पूरे प्रदेशभर में हुआ अनूठा प्रदर्शन हुआ अपने अपने घरों की छत पर घर के आंगन खड़े होकर लोगो ने शराब बंदी के नारों से लिखे पोस्टर को दिखाया हाथों में शराबबंदी का पोस्टर थामें महिला पुरुष बच्चे हर कोई कोरोना संक्रमण काल के दौरान शराब बेचने की सरकार की इस नीति का विरोध कर रहे थे संस्था नवसृजन मंच के अमरजीत सिंह छाबडा डॉ भारवी वैष्णव ने बताया की संस्था द्वारा मदर्स डे पर यह अभियान किया इस डिजिटल प्रदर्शन की तैयारी पिछले कई दिन से कर रही थी सोशल मीडिया को माध्यम बनाकर इसका प्रचार प्रसार किया गया प्रदेश के सभी सम्भाग रायपुर बिलासपुर सरगुजा दुर्ग और बस्तर संभाग से हर जगह से व्यापक समर्थन मिला संस्था नवसृजन मंच ने अपील की थी कि ठीक शाम 5 बजे घरों में रहकर सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए अपने अपने घर की छत अथवा आंगन में ही रहकर शराबबंदी के स्लोगन वाला पोस्टर दिखाना है और उसकी फोटो या वीडियो बनाकर एक साथ सोशल मीडिया फेसबुक वाट्सअप ट्विटर इंस्टाग्राम में शेयर करनी है जिससे की एक ही समय मे डिजिटल विरोध शराब को लेकर दिखे संस्था नवसृजन मंच की इस मुहिम में बहुत बड़ी संख्या में बुद्धिजीवी वर्ग समाजसेवी राजीतिक दल से जुड़े लोग महिला संग़ठन सम्मिलित हुए विशेष रुप से  महिला आयोग की राष्ट्रीय सलाहकार श्रीमती हर्षिता पांडेय जशपुर राजघराने की बहू संयोगिता सिंह जूदेव सहित समाजसेवी संग़ठन नारायणी संस्था जनसंघ सेवक संघ तेजस्विनी फाउंडेशन जय गंगा मैया समिति हर सम्भव फाउंडेशन जिंदगी फाउंडेशन सोनी समाज स्वर्णकार समाज सर्व ब्राह्मण समाज स्वर्णकार युवा क्रांति मंच सखी फाउंडेशन सोशल संगवारी ग्रुप जिंदगी ना मिलेगी दुबारा संभावना फाउंडेशन आंध्र ब्राह्मण समाज महिला विंग शकुंतला फाउंडेशन राजपूत क्षत्रिय रेलवे समाज बिलासपुर ने संस्था नवसृजन मंच की इस मुहिम में विशेष योगदान दीया साथ ही शराब नहीं खरीदने अपील  भी की समय कोरोना संक्रमण से पूरा देश जूझ रहा है डेढ़ महीने से ज्यादा हुए लोगो के काम धंधे बन्द है मध्यमवर्गीय और निम्न वर्ग के लोगो के सामने भोजन की समस्या उतपन्न हो गई ऐसे में शराब दुकानों के खुलने से जो पैसे इन वर्गों के हाथ मे थे वो भी शराब की भेंट चढ़ गए साथ ही कोरोना महामारी की वजह से सोशल डिस्टेंस का पालन भी नही हो रहा शराब दुकानों की भीड़ कोरोना को आमंत्रित कर रही है साथ ही एकाएक अपराधों में वृद्धि हो गई

शराब पीकर हत्याएं बलात्कार मारपीट की घटनाएं आम हो गई छत्तीसगढ़ में कोरोना से एक भी जान की हानि नही हुई लेकिन इन 5 दिनों में अनेको लोग शराब की भेंट चढ़ गए शराब को लेकर हत्याएं कोरोना से भी खतरनाक निकली संस्था नवसृजन मंच के अध्यक्ष अमरजीत सिंह छाबडा देवाशीष मुखर्जी डॉ भारवी वैष्णब कांतिलाल जैन मनोज जैन नरेश नामदेव नेहा ठाकुर देवदत्त आर्य नेहा शर्मा श्रद्धा राजपूत डॉ सोनल जैन शोभिता श्रीवास्तव आदि ने कहा की संस्था शराब बंदी को लेकर निरंतर जनजागरण अभियान चलाते रहेगी सरकार को भी समय रहते शराब की बिक्री को बन्द करना ही होगा


Share To:

Post A Comment: