तिरंगा में लिपटे शहीद का पार्थिव शरीर सेना के हेलीकॉप्टर से पहुंचा दरिमा हवाई पट्टी

सड़क मार्ग से शहीद का शव ले जाया गया गृह ग्राम खाला

अंबिकापुर. !  नक्सली हमले में  शहीद हुए एसआई  का  पार्थिव शरीर  शनिवार की  दोपहर  सेना के  हेलीकॉप्टर से   दरिमा हवाई पट्टी लाया गया  जहां से  सड़क मार्ग से  शहीद के घर  गृह ग्राम  खाला  ले जाया गया  !  हवाई पट्टी में खाद्य मंत्री अमरजीत भगत कलेक्टर सारांश मित्तर एसपी समेत अन्य अधिकारी व जनप्रतिनिधिगण  तथा पुलिस के जवान उपस्थित रहे  !राजनांदगांव के मदनवाड़ा थाना क्षेत्र के ग्राम परधौनी में नक्सलियों से मुठभेड़ में शुक्रवार की रात थाना प्रभारी एसआई श्याम किशोर शर्मा शहीद हो गए थे। इस मुठभेड़ में 4 नक्सली भी मारे गए हैं। शहीद एसआई का पार्थिव शरीर शनिवार की दोपहर करीब डेढ़ बजे उनके गृहग्राम सरगुजा के खाला पहुंचा।

शव देख उनके परिजनों के रोने का ठिकाना न रहा। यहां काफी संख्या में मौजूद जनप्रतिनिधियों व पुलिस विभाग के आला अफसरों व कर्मचारियों द्वारा उन्हें श्रद्धांजलि दी गई इस बीच शहीद एसआई के पिता बृजकिशोर शर्मा ने कहा कि मुझे गर्व है, शासन ध्यान दे ताकि ऐसे एंकाउंटर न हों। कलेजा फट रहा है।

सरगुजा जिले के अंबिकापुर-दरिमा मार्ग पर स्थित शहर से लगे ग्राम खाला निवासी एसआई श्याम किशोर शर्मा शुक्रवार की रात नक्सलियों से मुठभेड़ में शहीद हो गए थे। उनका पार्थिव शरीर चॉपर से दोपहर करीब डेढ़ बजे दरिमा हवाई पट्टी पहुंचा।

यहां से सडक़ मार्ग से तिरंगे में लिपटा शव उनके घर पहुंचा। यहां लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। वहीं एसपी, एएसपी, सीएसपी, एसडीओपी समेत अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर मौजूद रहे।

चार भाइयों में थे सबसे छोटे

शहीद एसआई श्याम किशोर शर्मा चार भाइयों में सबसे छोटे थे, उनकी शादी अभी नहीं हुई थी।


Share To:

Post A Comment: