चित्रकूट जब चरम सीमा पर होने लगा अवैध खनन तो भाजपा जिला अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री से की शिकायत

कलयुग की कलम 

चित्रकूट जिले में इस समय अवैध खनन जोरों पर है आपको बता दें कि विगत कुछ साल पहले वर्तमान खनिज अधिकारी की छत्रछाया में भरतकूप क्रेसर नगरी के इर्द-गिर्द पहले पहाड़ों में अवैध खनन जोरों पर हुआ करता था वही अधिकारी का बाँदा स्थानांतरण हुआ तो बाँदा में अवैध रेत खनन बालू माफिया हावी से और दिन-रात बाँदा में भी अवैध खनन जोरों पर चलने लगा यहां तक कि अवैध खनन में लिप्त कई बार माफियाओं द्वारा प्रशासनिक अधिकारियों पर गोली भी चलाई गई परंतु जिम्मेदार खनिज अधिकारी ने अपनी जिम्मेदारी निभाने से हमेशा दूर नजर आते रहे वहीं अब संबंधित खनिज अधिकारी चित्रकूट दोबारा आ गए और अब चित्रकूट में भी खनिज माफियाओं ने अपना डेरा जमा दिया है जिलाधिकारी के सख्त आदेशों के बाद भी चित्रकूट जिले में पहाड़ों सहित कई नदियों में अवैध खनन जोरों पर चल रहा है जिसकी जानकारी राजस्व विभाग व खनिज अधिकारी को भी है परंतु जिम्मेदार अधिकारियों ने आज तक इस ओर ध्यान नहीं दिया वहीं जब भाजपा जिला अध्यक्ष चंद्रप्रकाश खरे के द्वारा अवैध खनन रोकने के लिए अधिकारियों से कई बार बात कही गई तो अधिकारियों ने जिलाध्यक्ष की भी बात नहीं सुनी जिसको लेकर जिला अध्यक्ष को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगिआदित्यनाथ को पत्र लिखने के लिए विवश होना पड़ा वही अब आम चर्चा कभी सही है बना हुआ है कि आखिर क्या जिला अध्यक्ष के द्वारा अवैध खनन की शिकायत पर मुख्यमंत्री द्वारा कोई ऐसा शिकंजा कसा जाएगा कि अवैध खनन पर अंकुश लग सके या फिर जिला अध्यक्ष की शिकायत को दरकिनार करते हुए अधिकारियों की मनमानी इसी तरह हावी रहेगी और खनन माफिया जिले में इसी तरह अवैध खनन कर मालामाल होते रहेंगे।

ब्यूरोरिपोर्ट आशीष श्रीवास्तव

जनपद चित्रकूट

Share To:

Post A Comment: