जिलाधिकारी ने शहर व ग्रामीण क्षेत्र के विभिन्न आश्रय स्थलों  क्वारंटीन सेंटरों का किया निरीक्षण

KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
         प्रयागराज
विकास कुमार पटेल

प्रयागराज जिलाधिकारी ने शहर व ग्रामीण क्षेत्र के विभिन्न आश्रय स्थलों क्वारंटीन सेंटरों का किया निरीक्षण

सील किए गए क्षेत्रों में मूलभूत आवश्यकताओं की चीजों की न हो कमी-जिलाधिकारी, प्रयागराज

कम्यूनिटी किचन सेंटर में भोजन की गुणवत्ता की जांच करते हुए वहां पर साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने के दिए निर्देश

04 मई, 2020 प्रयागराज।

जिलाधिकारी प्रयागराज  भानु चन्द्र गोस्वामी ने शहर व ग्रामीण क्षेत्र फूलपुर, सैदाबाद, हण्डिया के विभिन्न आश्रय स्थलों क्वारंटीन सेंटरों में ठहराए गए व आने वाले प्रवासी मजदूरों और कोविड-19 से लड़ने के लिए बनाये गये क्वारंटीन सेंटरों का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी सर्वप्रथम ग्राम दुसौती, सैदाबाद पहुचंकर वहां पर सील किए गए गांव का निरीक्षण किया। पिछले दिनों वहां पर कोरोना पाजिटिव केस आने के बाद सील किए गए गांव में सभी को आवश्यक वस्तुएं मिल पा रही है या नहीं, इसकी जानकारी ली। वहां पर मौजूद लोगो से उनका हाल-चाल लेते हुए पूछा कि आप लोगो को दूध, सब्जी, पेपर, राशन व अन्य आवश्यक चीजें उपलब्ध होने में कोई परेशानी तो नहीं हो रही है। उन्होंने ड्यूटी पर लगाये गये अधिकारियों को सख्त हिदायत दी कि सील किए गए क्षेत्र में कोई भी व्यक्ति न तो बाहर जाये और न ही क्षेत्र के अंदर प्रवेश कर सके। जिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि सील किए गांव में यदि कोई व्यक्ति बीमार पड़ता है, तो उन्हें तत्काल एम्बुलेंस उपलब्ध करायी जाये और निर्धारित हाॅस्पिटल में पहुंचाकर उपचार कराया जाये। उन्होंने प्रभावित क्षेत्र में फागिंग व सैनीटाइज कराने के निर्देश दिए। तदुपरांत वहां से निकलकर वसी गेस्ट हाउस में बनाये गये कम्यूनिटी किचन सेंटर पहुंचकर वहां पर बनाये जा रहे भोजन की गुणवत्ता की जांच की और कम्यूनिटी किचन में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने को कहा। मदर टेरेसा कान्वेंट स्कूल, हण्डिया में बनाये गये क्वारंटीन सेंटर जहां पर लोगो को क्वारंटीन करने के लिए पहले से तैयारियां की गयी है, वहां पर पहुंचकर व्यवस्थाओं को जायजा लिया। तैयारियां ठीक तरीके से न होने पर सम्बन्धित अधिकारी को कड़ी फटकार लगाते हुए तत्काल सारी आवश्यकताओं की चीजों को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। एस0टी0 थाॅमस स्कूल, हण्डिया में भी जाकर बनाये जा रहे क्वारंटीन सेंटर के व्यवस्थाओं की जानकारी ली। वहां की व्यवस्थाओं को देखकर जिलाधिकारी ने संतोष व्यक्त किया।

इसके उपरांत जिलाधिकारी फूलपुर के प्राथमिक स्कूल में बनाये गये सामुदायिक किचन का जायजा लेते हुए कहा कि किचन में खाना बनाते समय साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखे। इसके बाद जिलाधिकारी शंकर पब्लिक स्कूल, फूलपुर में बनाये क्वारंटीन सेंटर की व्यवस्थाओं की जानकारी लेते हुए शहरी क्षेत्र में स्थित कटरा रामलीला कमेंटी के गेस्ट हाउस में क्वारंटीन किए गए लोगो से हाल-चाल पूछा। क्वारंटीन सेंटर के सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया कि ठहराए गए लोगों को कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए। सेंटरों में साफ-सफाई, शौचालयों की साफ-सफाई, शौचालयों में पानी की उपलब्धता, स्नान व साबुन, सैनिटाइजर, मास्क आदि आवश्यक सामान निश्चित रूप से मुहैया कराया जाए। इसके साथ ही वहां पर क्वारंटीन किए गए लोगो से उपलब्ध कराये जा रहे नाश्ता, भोजन आदि की गुणवत्ता के सम्बंध में जानकारी ली।

जिलाधिकारी ने खाद्यय एवं रसद विभाग के अधिकारियों के साथ की बैठक

जिलाधिकारी प्रयागराज भानु चन्द्र गोस्वामी ने संगम सभागार में खाद्यय एवं रसद विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में अधिकारियों को निर्देशित किया कि राष्ट्रीय खाद्यय सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत नियमित खाद्य का उठान वितरण सुनिश्चित किया जाय। साथ ही उन्होंने अधिकारियों से जानकारी ली कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्य योजना के अंतर्गत 5 कि0ग्रा0 प्रति व्यक्ति, प्रतिमाह तीन माह तक निःशुल्क वितरित किये जाने हेतु अतिरिक्त चावल का आवंटन उठान ससमय पूरा किया जाये। कुछ जगहों से जानकारी प्राप्त हो रही है कि कुछ गोदामों से उचित दर पर कोटेदार विक्रेताओं को खाद्यान्न की पूर्ण मात्रा नहीं प्राप्त हो रही है। इसलिए गोदामों से उचित दर विक्रेताओं को खाद्यान्न के निर्गमित कराये जाने हेतु विपणन शाखा के संचालित गोदामों पर नोडल अधिकारी की तत्काल नियुक्ति की जाये, जिससे कोटेदारों को खाद्यान उठान में कोई परेशानी न हो। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि गोदाम से उचित दर विक्रेताओं को आवंटन के सापेक्ष खाद्यान्न का निर्गमन नियमानुसार अपने समक्ष शत-प्रतिशत पूर्णमात्रा में तौलकर कराना सुनिश्चित करें, जिससे शासन की योजनाओं को पूर्ण लाभ लाभार्थियों को प्राप्त हो सके। जहां-जहां उचित दर विक्रेताओं की दुकानें है, वहां लगातार जांच करते रहे, जिससे कालाबाजारी व घटतौली पर लगाम लगायी जा सके। जो दुकाने शहरी क्षेत्र के बाहर व दूरदराज इलाकों में है, वहां पर सुपरवाईजरों को ड्यूटी लगायी जाये। कोटेदार अपनी दुकानों पर व खाद्यय विभाग के गोदामों पर भी सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्णतया पालन करना सुनिश्चित करें।  

जनपद के सभी छोटे बड़े कृषक, पशु प्रेमी निराश्रित गोवंश के भरण-पोषण हेतु स्वेच्छा से चारे भूसे का करें दान-मुख्य विकास अधिकारी

मुख्य विकास अधिकारी, प्रयागराज आशीष कुमार ने बताया है कि उत्तर प्रदेश शासन द्वारा विभिन्न गोशालाओं एवं गो-संरक्षण केन्द्रों पर संरक्षित निराश्रित गोवंश हेतु चारे एवं भूसे की पर्याप्त व्यवस्था किये जाने हेतु निर्देश दिये गये है, जिसके अनुपालन में जनपद के सभी विकास खण्डों में फाडर बैंक भूसा भण्ड़ारण केन्द्र की स्थापना करायी जा रही है, जिससे वर्ष भर निराश्रित गोवंश हेतु चारे भूसे की कमी न हों। इस वैश्विक महामारी कोविड-19 के दृष्टिगत रखते हुए जनपद के सभी छोटे बड़े कृषकों, पशु प्रेमियों से अनुरोध है कि निराश्रित गोवंश के भरण-पोषण हेतु स्वेच्छा से चारे भूसे का दान करें साथ ही ग्राम प्रधानों से भी अपील है कि अपने स्तर से कृषकों को जागरूक करते हुए भूसे को बरबाद होने से बचाने तथा अधिक से अधिक मात्रा में भूसे को फाड़र बैंक में भण्डारण कराने हेतु प्रोत्साहित करें।






Share To:

Post A Comment: