नमों शक्ति संगठन दिल्ली की राष्ट्रीय अध्यक्ष  श्रीमती अंजली शुक्ला ने किया लेखक अब्दुल कादिर खान का सम्मान खान ने किया आभार प्रकट

मैं अब्दुल कादिर खान कलयुग की कलम राष्ट्रीय मासिक समाचार पत्रिका एवं वेब न्यूज चैनल के लेखक के रुप में देश के चौथे स्तंभ का एक सदस्य हुं में 

नमो शक्ति संगठन का आभारी हूं

मेरा हमेशा प्रयास रहता है की आम जनमानस और देश में चल रहे घटनाक्रम पर प्रमुखता से लिखता रहुं

मेरे लेखों ने निस्चित ही देश के सौहार्द्र बिगाड़ने वाले संगठनों और व्यक्तियों को चुनौती दी है।

 मेरी सोच देश की एकता और अखंडता को क़ायम रखना ज्वल्त   मुद्दे निडर होकर आम जनमानस का जिससे सीधा सरोकार है उसपर शासन प्रशान से सीधा संवाद और सवाल उठाना  ।

गरीब मजदूर बेरोजगार श्रमिकों के कल्याण के लिए सरकार से सीधा सवाल 

देश की व्यवस्थाओं पर राजनितिक उथल-पुथल पर विशेष ध्यान देकर सबसे पहले इसका निष्कर्ष निकालने का प्रयास किया है।

वहीं गलत ख़बरें चलाने वाले पत्रकारों चैनलों पर खुली बहस कर उनके खिलाफ नियुज़ लेख लिखने का काम किया है।

देश में मजदूर पलायन कोरोना  वायरस योद्धाओं का सम्मान ग्रामिणों को जागरूक करने का प्रयास किया है।

हमारा सदा प्रयास प्रथमिकता रहेगी कि हम अपने देश हिन्दुस्तान के निवास करने वाले सभी जाति धर्म समुदायके बिना किसी भेद-भाव के निडर होकर अपने लेखों से आवाज़ उठाने में कभी कोई कसर नहीं छोड़ेंगे

अंत में

पत्रकार हूं, संवेदना लिखता हूं..

कभी दर्द तो कभी सच लिखता हूं..

फिर भी कई बार शोषित हो जाता हूं.

कई बार उलाहनाएं भी झेलता हूं..

पत्रकार हूं, संवेदना लिखता हूं..

तुम्हारी चाहत की कलम खिलाता हूं..

कभी रेसिपी तो,

कभी सुंदरता बटोरता हूं..

कभी आतंकियों तो,

कभी आंदोलनों से गुजरता हूं..

थप्पड़ तो कभी धक्के खाता हूं..

पत्रकार हूं, संवेदना लिखता हूं..

राजनीति लिखता हूं रणनीति बन जाता हूं.

सच की छलनी परोसता हूं..

कभी दस्तावेजों पे तो,कभी शिक्षा पे सवाल उठाता हूं

पत्रकार हुं संवेदना लिखता हूं

 में नमों शक्ति संगठन का आभारी हूं।

          लेखक 

अब्दुल कादिर खान

  कलयुग की कलम

मो, 9753687489

Share To:

Post A Comment: