“मुख्यमंत्री के कथा वाचन से गरीब जनता को राहत नही”

“जनता के लिए सड़क पर उतरने वाले महाराज लापता”

म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी के प्रदेशसचिव राकेश सिंह यादव ने आरोप लगाया हैं की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा टीवी पर कथा वाचन से जनता त्रस्त हो गयी हैं।

लॉकडाउन के दौरान गरीब जनता को मुख्यमंत्री बिना राशन का भाषण दे रहे हैं।

प्रत्येक वर्ग म.प्र. में शिवराज सरकार की निष्क्रियता का शिकार हो रहा हैं।गरीब वर्ग को न राशन मिल रहा हैं न खाना मिल रहा हैं।मध्यमवर्गीय परिवार दोहरी मार झेल रहा हैं एक तो कमाने से मोहताज हैं दूसरी ओर बिजली बिल,जल कर ,समाप्ति कर ,कचरा कर ,स्कूल कॉंलेज की फ़ीस एंव फल,सब्ज़ी,राशन की ज़बरदस्त कालाबाज़ारी।

ऐसा लगता हैं की मुख्यमंत्री भाजपा की चुनावी हार का बदला इस कोरोना महामारी के ज़रिये ले रहे हैं।एक भी वास्तविक राहत की घोषणा घोषणावीर मुख्यमंत्री ने नहीं की हैं।कोरोना संक्रमित व्यक्ति को प्रायवेट अस्पतालों में लूटने की खुली छुट मुख्यमंत्री ने दे रखी हैं।ये बात तो आम जनता भी समझ गई हैं की शिवराज सरकार और प्रायवेट अस्पताल की लूट में चोली दामन का साथ हैं।

मुख्यमंत्री के अमानवीय निर्णयों ने म.प्र. को कोरोना प्रदेश बना दिया हैं।

जनता के लिए सड़क पर उतरने वाले कथित महाराज लापता हैं।गुना से सवा लाख मतों से हारने के बाद कॉंग्रेस की सरकार को धोखे से गिराने वाले महाराज कहीं भी जनता की आवाज़ उठाते हुए नज़र नहीं आ रहे हैं।इस समय सबसे ज़्यादा राहत एंव मदद की आवश्यकता थी लेकिन कॉंग्रेस के बाग़ी भाग खड़े हुए हैं।निश्चित तौर पर आने वाले 24 उपचुनाव में जनता ज़रूर ऐसे नेताओं को सबक़ सिखायेगी जिनके लालच की वजह से आज म.प्र. कोरोना संक्रमण से बहुत ज़्यादा प्रभावित हुआ हैं।

जनता के साथ धोखा करके जनमत का चीर- हरण करने वाले शिवराज-महाराज को जनता ऐसे सबक़ सिखायेगी जो की म.प्र. के इतिहास में हमेशा के लिए दर्ज हो जायेगे जैसे महारानी लक्ष्मीबाई के समय विश्वासघात करने पर इतिहास में दर्ज हैं । फ़र्क़ सिर्फ़ इतना रहेगा का इस बार ऐसे जनमत का अपहरण करने वाले नेताओं की बलि जनता चढाएगी लोकतंत्र की मर्यादाओं को जीवित रखने के लिए ।सत्य एंव जनता की विजय निश्चित हैं।


राकेश सिंह यादव
प्रदेशसचिव
म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी
भोपाल
Share To:

Post A Comment: