शहडोल डिजिटल होम एजुकेशन में प्रदेश में प्रथम

अविनाश शर्मा
शहडोल मध्य प्रदेश
6261959407

शहडोल - कलेक्टर डॉक्टर सतेंद्र सिंह के मार्गदर्शन में तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री पार्थ जयसवाल के निर्देशन में वायरस के मद्देनजर लॉकडाउन-2 के अवधि में डिजिटल होम एजुकेशन में शहडोल जिला प्रदेश में प्रथम स्थान पर है। 

डीपीसी डॉ मदन त्रिपाठी ने जानकारी दी है कि सभी बीआरसी, बीएसी, सीएसी एवं प्रधानाध्यापक के द्वारा लगातार किए गए प्रयासों डिजिटल होम एजुकेशन के माध्यम से शहडोल जिले के 123746 छात्र मोबाइल एवं रेडियो के माध्यम से गुणवत्तापूर्ण शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि लाक डाउन के समय में विद्यार्थियों को इससे सहूलियत मिली है और विद्यार्थी अपने घरों में ही गुणवत्ता युक्त शिक्षा ग्रहण कर लाभ ले रहे हैं। उन्होंने बताया कि हर दिन प्रातः 9:30 बजे स्टडी मैटेरियल सॉफ्ट कॉपी के रूप में जिला शिक्षा केंद्र शहडोल को मिलता है। जिला शिक्षा केंद्र द्वारा तत्काल सीएसई ग्रुप में जिसमें विद्यार्थियों के अभिभावक जुड़े हैं, उन ग्रुपों में अभिभावकों को सॉफ्ट कॉपी उपलब्ध कराई जा रही है। उन ग्रुपों में अभिभावकों के मोबाइल फोन में छात्र-छात्राएं देखकर शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं  तथा जिनके पास एंड्रॉयड फोन नही है। वे इनके साथ एवं रेडियो में प्रातः 11:00 से 12:00 बजे तक सुनकर शिक्षा शिक्षा का लाभ ले रहे हैं। उन्होंने बताया कि इसकी मॉनिटरिंग राज्य शिक्षा केंद्र तथा जिले के डीपीसी,बीआरसी, बीएसी एवं सीएसी करते हैं। मॉनिटरिंग की जानकारी वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से राज्य शिक्षा केंद्र भोपाल तक डीपीसी द्वारा दी जाती है।



Share To:

Post A Comment: