रेडजोन में चल रहे ग्राम सेमरवारा में लापरवाही अपने चरम पर

कलयुग की कलम/योगेश योगी/सतना

कोरोना जंहा देश प्रदेश में घटने के नाम नहीं ले रहा वंही इसे गांवों तक पहुँचाने के इंतज़ाम सरकार ने कर दिया यह जानते हुए भी की गांवों ने सोसल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा। सरकार ने यह तक नहीं सोचा कि पहले बाहर से भेजने वालों को वंही पर क्वारेटाइन किया जाए फिर गांवों तक जाने की इजाजत दी जाए। 

लेकिन यँहा ऐसा नहीं है गाँव तक भेजे गए या पहुँचे व्यक्तियों  की कँही पर भी स्क्रीनिंग नहीं हुई है। ये व्यक्ति भोपाल, इंदौर,सूरत, सागर जैसे गंभीर रूप से प्रभावित जगहों से गाँव मे आए हुए हैं। ये ग्रामीण जन #क्वारेंटाइन होने की जगह घरों पर परिवार के साथ रह रहे हैं साथ ही बेपरवाही से पूरे गाँव मे खुले घूम रहे हैं सबसे मिलना जुलना हो रहा है। यह सिर्फ उनके परिवार के लिए खतरनाक नहीं बल्कि पूरे गाँव और जिले  के लिए खतरनाक हैं।

लापरवाह जनप्रतिनिधि और प्रशासनिक अधिकारी कोरोना होने का इंतज़ार कर रहे हैं ताकि आँकड़ों में वृद्धि कर सतना जिले को गौरवान्वित किया जा सके।

ऐसा इसलिए क्योंकि गाँवो में पंचायती बंदरबाँट चल रहा है ना कँही मास्क न कँही सेनेटाइज किया गया है और कागजों में सब ठीक ठाक चल रहा है।

Share To:

Post A Comment: