“आसाराम का समर्थन करने वाले प्रभात झा अप्रवासी भाजपा नेता हैं मोदी ने दरकिनार कर रखा हैं सक्रिय राजनीति से”

“पूर्व सीएम कमलनाथ पर बोगस आरोप लगाकर भाजपा में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने की कोशिश “

“सिंधिया के भाजपा में आकर राज्यसभा सांसद बनने के बाद प्रभात झा का मानसिक संतुलन ख़राब हुआ”

इन्दौर,भाजपा द्वारा सक्रिय राजनीति से रिटायर किये गये प्रभात झा के आरोपो पर बिना वजह उछल-कूद  म.प्र .भाजपा कर रही हैं।

कॉंग्रेस का सारा हिसाब दस्तावेज़ों में दर्ज रहता हैं पीएम केयर फंड जैसा गोलमाल नही हैं।

म.प्र. में भाजपा ने जनमत से धोखा करके जिस तरीक़े से सत्ता हथियायी हैं इससे स्पष्ट हैं की जनता भाजपा को सबक़ सिखा कर रहेगी ।इस बात से घबराकर भाजपा और मुख्यमंत्री शिवराज कॉंग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री पर झुठे आरोप लगाकर जनता का ध्यान बॉंटने की कोशिश कर रहे  हैं।

भाजपा के अप्रवासी नेता प्रभात झा की उपयोगिता उस समय ही समाप्त हो गई थी जब आसाराम के बलात्कार वाले मामले में महिलाओ का अपमान करते हुए बलात्कारी आसाराम के पक्ष में खड़े होकर गिरफ़्तार करने से रोकने के लिए दबाव बना रहे थे ।बाद में मोदी की डॉंट खाने के बाद चुप हो गये थे।

यह सर्वविदित हैं की  सीएम शिवराज ने 2016 में चीन की यात्रा करके चीनियों का गुणगान किया था।पॉंच दिन तक चीन की यात्रा का लुफ्त उठाया था अनेक इन्वेस्टर से एग्रीमेंटो का प्रचार-प्रसार किया था लेकिन ज़मीन पर एक भी प्रोजेक्ट नही आया इसका मतलब चीन जाने का उद्देश्य क्या था यह म.प्र.की जनता को आज तक समझ नही आया हैं।

भाजपा की शिवराज सरकार कोरोना संक्रमण की मौतों से ध्यान भटकाने के लिए एंव केंद्र सरकार की चीन के सामने नाकामी तथा देश को चीन के सामने कमज़ोर दर्शाने वाली परिस्थितियों से जनता का ध्यान  भ्रमित करने के लिए इस तरह के फ़र्ज़ी एंव बोगस आंदोलन कर रही हैं।लेकिन जनता को सब याद हैं भाजपा को करारा जवाब जनता उपचुनाव में देने को तैयार हैं।


राकेश सिंह यादव
प्रदेशसचिव
म.प्र.कॉंग्रेस कमेटी
भोपाल

Share To:

Post A Comment: