विधायिका, कार्यपालिका व न्यायपालिका देश मे एक समान व पारदर्शी जनहितकारी व्यवस्था लागू कराएं

             K K K न्यूज रिपोर्टर
                      नैनी
            सुभाष चन्द्र पटेल

भारतीय नागरिकों को एक समान व निःशुल्क शिक्षा, चिकित्सा व स्वास्थ्य सुविधा मिले। ---आर के पाण्डेय एडवोकेट।

प्रयागराज नैनी परमेंदु वेलफेयर सोसाइटी के संस्थापक/प्रबन्धक आर के पाण्डेय एडवोकेट ने सरकार से मांग की है कि वह सभी भारतीय नागरिकों को एक समान व निःशुल्क शिक्षा, चिकित्सा व सुरक्षा उपलब्ध कराए।

जानकारी के अनुसार आज मीडिया से वार्ता में समाजसेवी अधिवक्ता आर के पाण्डेय ने कहा कि जब हमारा देश व सरकार मजबूत है व अरबों रुपये की विभिन्न योजनाओं में सब्सिडी, कर्जमाफी व फ्री की सुविधा दी जाती है एवं मात्र कुछ चुनिंदा लोगों को अरबों की सुरक्षा व पीढ़ियों से सम्पन्न कुछ लोगों को जातिगत आरक्षण का अनावश्यक लाभ दिया जाता है तो देश के जरूरतमन्द आम भारतीय नागरिकों को एक समान व निःशुल्क शिक्षा, चिकित्सा व सुरक्षा क्यों नहीं दी जाती है। उन्होंने सवाल किया कि विभिन्न प्रकार के बोर्ड्स व स्टेटस सिंबल के विद्यालयों के चलते शिक्षा में असमानता व भेदभाव है तो वास्तविक गरीब आज भी इलाज व सुरक्षा से महरूम है जबकि मात्र कागजी जुगाड़ से जातिगत एवं बीपीएल के नाम से धनाढ्य लोग भी फ्री का लाभ लेते हैं। आर के पाण्डेय एडवोकेट के अनुसार 73 सालों से मात्र वोट बैंक की राजनीति ने असमानता व भेदभाव का वातावरण तैयार किया है जिसके समाधान के लिए आवश्यक है कि विधायिका, कार्यपालिका व न्यायपालिका जनहित में सामने आकर देश मे एक समान व पारदर्शी व्यवस्था कायम कराएं। उन्होंने बताया कि उपरोक्त के बावत एनजीओ परमेंदु वेलफेयर सोसाइटी जल्द ही विधायिका, कार्यपालिका व न्यायपालिका के समक्ष इस बावत लिखित रूप से प्रस्ताव भेजेगी व आवश्यक होने पर जनहित, समाजहित व राष्ट्रहित में आंदोलन भी करेगी।

Share To:

Post A Comment: