एडिटोरियल बोर्ड की सदस्य बनी रीना

KKK  न्यूज रिपोर्टर
        नैनी
  सुभाष चंद्र

जिला कानपुर की रहने वाली रीना सचान आईआईटी रूडकी से शोध की छात्रा हैँ, अभी हाल में ही उनका रिसर्च पेपर एक अच्छे जर्नल (कंस्ट्रक्शन एंड बिल्डिंग मटेरियल) में पब्लिश हुआ था जिसके बाद एक दूसरे जर्नल (फ्रंटियर्स इन एनवायरनमेंटअल माइक्रोबायोलॉजी) द्वारा रीना सचान जी को एडिटोरियल बोर्ड का मेंबर बनने का ऑफर मिला जिसे ख़ुशी ख़ुशी उन्होंने स्वीकार कर लिया, जो की एक शोध छात्र के लिए बहुत गर्व की बात है!

आपको बताते चलें की श्रीमती रीना सचान मूलरूप से ग्राम धरमंगदपुर सजेती घाटमपुर कानपुर से हैँ, उनका परिवार किदवई नगर, कानपुर में रहता है, और उनकी शादी ग्राम असधना घाटमपुर कानपुर नगर में हुई थी, डॉ राजेंद्र प्रसाद ग्राम-असधना की पुत्रवधु अपने पति श्रीमान आशीष कु. उमराव पटेल  के साथ आईआईटी रूडकी में रहकर Ph. D. कर रही हैँ, इससे पहले रीना सचान जी ने कानपुर यूनिवर्सिटी से M. Sc. Microbiology करने के बाद गेट क्वालीफाई कर M. Tech. Biotechnology से किया है, उन्होंने बताया उनको बचपन से ही पढ़ाई का बहुत शौक था, शादी के बाद भी आगे की पढ़ाई करने में कोई समस्या नहीं हुई, पति आशीष जी भी एजुकेशन इंस्टिट्यूट का संचालन करते हैँ, उन्होंने बताया उनका सपना Ph. D. पूरी कर विदेश से पोस्ट डॉक् करने का है, उन्होंने बताया उनको  भविष्य में समाज के बच्चों को पढ़ाई के लिए गाइडेंस देने में ख़ुशी होगी!!


Share To:

Post A Comment: