दिनांक  25.06.2020 

माननीय उच्च न्यायालय मध्यप्रदेश में अर्जेन्ट मामलों की सूनवाई वीडियो कान्फ्रेस यानी वर्क फ्राम होम के माध्यम से सुनवाई हुई

हाईकोर्ट में अर्जेन्ट मामलों की सूनवाई का सिलसिला जारी है वीडियो कान्फ्रेंस यानी वर्क फ्राम होम के माध्यम से रतालम के अधिवक्ता दयानाथ पाण्डे एवं सुधाशु राय सक्सेना द्वारा जमानत आवेदन प्रस्तुत कर तर्क किये गए। सलाहुद्दीन खान पिता अय्युब खान के विरूद्ध अपराध धारा 188, 294, 323, 324, 307, 452, 506 एवं 34 भा.द.वी. अपराध क्रमांक 204/20 थाना स्टेशन रोड पर दर्ज हुआ उक्त अपराध में सलाहुद्दीन खान द्वारा जमानत आवेदन एमसीआरसी 16532/20 जमानत आवेदन अधिवक्ता के माध्यम से प्रस्तुत की गई एवं इसी प्रकार राकेश पिता चम्पालाल के विरूद्ध अपराध धारा 363, 366, 376, (2) (एच) एवं 344 भा.द.वी एवं पास्को एक्ट धारा 5 एवं 6 अपराध क्रमांक 434/2018 थाना आलोट पर दर्ज हुआ। उक्त अपराध में राकेश द्वारा जमानत आवेदन एम सी आर सी 15027/20 अधिवक्ता के माध्यम से प्रस्तुत की गई। उक्त दोनों आवेदनों पर अधिवक्ता दयानाथ पाण्डे एवं सुधांशु राय सक्सेना द्वारा वीडियो कांफ्रेंस यानी वर्क फ्रोम होम के जरीए तर्क रखे गए। जमानत आवेदन पर रखे गए तर्क से सहमत होते हुए उक्त प्रकरण में जमानत आवेदन को स्वीकार किया जाकर जमानत का लाभ दिया गया। उक्त प्रकरणों में अधिवक्ता सुधांशु राय सक्सेना एवं दयानाथ पाण्डे द्वारा सफल पैरवी की गई।




Share To:

Post A Comment: