मंगलवार देरशाम शोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में ग्रामीणों ने बताई आपबीती

कलयुग की कलम 

ढीमरखेड़ा :- मंगलवार देरशाम को सोशल मीडिया पर एक वीडियो जमकर वायरल हुआ। 

वीडियो में ग्रामीण सीधे आत्मदाह करने की बात कर रहे हैं। आत्मदाह की बात करने वाले ये सभी महिला पुरूष ढीमरखेड़ा थाना क्षेत्र के सगौना गांव के है।

दरशअल मामला सगौना का जमीन विवाद संबधी है। इस पूरे मामले को लेकर बीते तीन-चार दिनों पहले से शोसल मीडिया पर ऑडियो वायरल हुआ था। जिसमें जमीन पर कब्जा करने वाली दिल्ली की सुनीता गुप्ता के कर्मचारी प्रभात पांडेय और ढीमरखेड़ा टीआई एन के पांडेय के बीच हुई वार्तालाप का बताया जा रहा है। हालांकि 'कलयुग की कलम'उस ऑडियो की पुष्टि नही करता है। दो लोगों के बीच हुईं बातचीत का ऑडियो वायरल कर भूमाफिया टीआई पर कार्रवाई करने का दवाब बनाने में जुटे हैं। वही इस पूरे मामले पर मंगलवार को एक नया मोड़ सामने आया है। जिसमें सगौना गांव के सैकड़ों महिला पुरूष आत्मदाह करने की बात कर रहे हैं। गांव के ग्रामीणों का कहना है कि टीआई साहब गरीबों और आदिवासियों के मसीहा बनकर सामने आए है।साहब ने कुछ गलत नही किया है। भूमाफिया और उनके कर्मचारियों ने गलत किया है। ये माफिया और उनके गुर्गे लोग रात को हथियार,कट्टा लेकर गांव के लोगों को जान से मारने की धमकी देते हैं।जिस पर टीआई साहब ने हमारी सुरक्षा के लिए तैनात हुए हैं। लेकिन उन्हें दबाने का प्रयास किया जा रहा है।अगर टीआई साहब के खिलाफ किसी भी प्रकार की कोई भी कार्रवाई की जाती है तो हम सभी ग्रामीण आत्महत्या करने के लिए तैयार है।खुद थाना परिसर में बच्चों सहित पहुँचकर खुद को आग के हवाले कर देंगे।  जिसके लिए सम्पूर्ण जिम्मेदार प्रशासन होगा। प्रशासन भूमाफिया और उनके गुर्गों के खिलाफ कार्रवाई करें। टीआई के खिलाफ नहीं।

Share To:

Post A Comment: