सरदार पतविंदर सिंह ने पेड़ों पर शुरू की गिलोय की चढ़ाई 

         K K K न्यूज रिपोर्टर       
                   नैनी
           सुभाष चन्द्र पटेल

 प्रयागराज नैनी समाजसेवी सरदार पतविंदर सिंह ने अपनी वही पुरानी साइकिल  पर सवार होकर पेडल मारकर झूला टांग कर उसमें गिलोय के पौधे,खुरपी. पानी की बोतल. लेकर प्रातः काल से ही भ्रमण करते हुए जगह जगह, शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में सहायक गिलोय औषधि कि इन दिनों बहुत मांग पर प्रयागराज शहर में अधिक से अधिक फैलाने का कार्य समाजसेवी सरदार पतविंदर सिंह कर रहे हैंl 

लक्ष्य शहर में मौजूदा प्रत्येक वृक्ष को गिलोय की बेल से लकदक करने का ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों तक प्राकृतिक कि यह सेहतमंद औषधि पहुंच सकेl समाजसेवी सरदार पतविंदर सिंह ने कहा कि विशेषकर बुजुर्गों ने गिलोय की पूछ परख शुरू की उन तक पहुंचाने में लगे है तो पता चला इसकी बहुत मांग है घर के आंगन में तुलसी. घर के दरवाजे के आसपास लगे वृक्षों पर गिलोय चढ़ी हो तो और भी बेहतर, रसोई में हल्दी जमाने से हमारी लोकल फार्मेसी रही है औषधीय गुणों से युक्त पेड़-पौधों का संग स्वस्थ रहने की मंत्र भी है पपीते में तमाम औषधि गुण होते हैं रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में कारगर प्राकृतिक औषधि जो खतरनाक रोगों से लड़कर शरीर को सेहतमंद रखती है 

 समाजसेवी सरदार पतविंदर सिंह ने कहा कि प्राकृतिक औषधि जन सुलभ बनाने के लिए छेड़ा अभियान 

जारी है लड़ाई....... पेड़ों पर शुरू की गिलोय की चढ़ाई

गिलोय की चढ़ाई में प्रभात मोहन श्रीवास्तव ,संजय श्रीवास्तव. हरमन सिंह .दलजीत कौर. उमाशंकर. रामबाबू, राहुल आदि स्वयंसेवक  गिलोय की  बेल चढ़ा रहे हैंl


Share To:

Post A Comment: